Corona से चीन में अब तक 1,367 मौतें, 60,000 लोग संक्रमित

पेइचिंग। Corona वायरस लगातार अपने पैर फैला रहा है और अब तक इस वायरस से 1,367 मौतें चीन में हो चुकी हैं। चीन में राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने जनता के गुस्से से बचने के लिए हुबेई और वुहान में कई अधिकारियों के तबादले कर दिए हैं।
जानलेवा Corona वायरस का आतंक जारी है और अब तक चीन में इसने 1,367 लोगों की जान ले ली है। चीन में अब इस वायरस के चलते राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने जनता के गुस्से से बचने के लिए शीर्ष अधिकारियों का तबादला कर दिया है। गुरुवार को चीन के हुबेई प्रांत और इसकी राजधानी वुहान में टॉप अधिकारियों को बदल दिया। बता दें कि नॉवल Corona की शुरुआत वुहान से हुई थी और अभी तक दुनियाभर में 45,000 लोगों से ज्यादा इस वायरस संक्रमित हो चुके हैं।
चीन की न्यूज एजेंसी शिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार शंघाई के पूर्व मेयर यिंग यॉन्ग की जगह अब जियांग चाउलिंग वुहान में सत्ताधारी कम्युनिस्ट पार्टी के मुखिया के तौर पर काम करेंगे। वुहान में वांग झॉन्गलिन अब मा गुओक्यांग की जगह पार्टी सचिव का पद संभालेंगे। स्थानीय मीडिया ने ययह भी बताया कि वायरस से जुड़े दूसरी कई बातों के लिए पार्टी के कई और नेताओं को भी निकाला गया है।
कोरोना से 60,000 लोग संक्रमित!
हुबेई प्रांत और उसकी राजधानी वुहान कोरोना वायरस का केंद्र है। सबसे बड़ी कम्युनिस्ट पार्टी के प्रमुखों को इसलिए भी निकाला गया क्योंकि अधिकारियों ने इस वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या की जब दोबारा गिनती की तो यह आंकड़ा बहुत तेजी से बढ़ा और 14,840 से करीब 60,000 पहुंच गया।
अभी तक हुबेई में इस वायरस के इन्फेक्शन का पता लगाने के लिए सिर्फ RNA टेस्ट किया जा रहा था, जिसमें कई दिन लगते हैं। RNA यानी रिबॉन्यूसेलिक एसिड में जेनेटिक इन्फर्मेशन मिलती है जिससे वायरस की पहचान होती है। अब कंप्यूटराइज्ड टोमोग्राफी (CT) स्कैन भी शुरू कर दिया है जिससे फेफड़ों को देखा जा सकता है। हुबेई स्वास्थ्य आयोग का कहना है कि इस टेस्ट से कोरोना संक्रमण का पता जल्दी चलता है।
जापान में कोरोना से पहली मौत
इस बीच जापान ने करॉना वायरस से पहली मौत की पुष्टि कर दी है। तोक्यो के पास कानागावा में करीब 80 वर्षीय एक महिला की मौत हो गई। बता दें कि इससे पहले हॉन्ग कॉन्ग और फिलीपींस में एक-एक मौत हो चुकी है। चीन के बाद करॉना से संक्रमित सबसे ज्यादा जापान है। वहीं करीब दो दर्जन से ज्यादा दूसरे देशों में भी करॉना के रोगी मिल चुके हैं।
जापान के स्वास्थ्य मंत्री के मुताबिक जनवरी में जापानी महिला बीमार हुई थीं। उस समय सिर्फ निमोनिया के लक्षण दिखने के बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। मौत के बाद के बाद ही महिला में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई और अब इसकी जांच हो रही है। चीन के बाहर करॉना के सबसे ज्यादा मामले क्रूज शिप डायमंड प्रिंसेज पर मिले हैं जो जापान के पोर्ट पर खड़ा है। इस शिप पर अब तक 219 से ज्यादा लोग करॉना की चपेट में आ चुके हैं। अधिकारियों का कहना है कि कुछ बुजुर्ग लोगों को शुक्रवार को जहाज से उतरने की अनुमति दे दी जाएगी।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *