10 साल के बच्‍चे ने इसरो के वैज्ञानिकों को लिखा… हम चांद पर जरूर पहुंचेंगे

नई दिल्‍ली। चंद्रयान- 2 का लैंडर विक्रम से संपर्क टूटने पर 10 साल के एक बच्चे ने इसरो वैज्ञानिकों को चिट्ठी लिखकर ढांढस बंधाया है।
आन्जनेय कौल नाम के इस बच्चे की एक पन्ने की वह चिट्ठी सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है।
आन्जनेय की मां ज्योति कौल ने इस चिट्ठी को ट्विटर पर शेयर किया जो खबर लिखने तक 3 हजार बार रीट्वीट हो चुकी थी और इसे 12.6 हजार लाइक्स भी मिल चुके थे।
उल्‍लेखनीय है कि चंद्रयान- 2 के लैंडर विक्रम का संपर्क टूटने के बाद निराश इसरो के वैज्ञानिकों के साथ पूरा देश खड़ा हो गया। भारत के एक-एक नागरिक ने अपने-अपने तरीके से वैज्ञानिकों की हौसला आफजाई की।
वायरल हो रही है चिट्ठी
आग्नेय ने ‘चंद्रयान-2’ एक कृतज्ञ भारतीय की भावना शीर्षक से लिखी चिट्ठी में इसरो वैज्ञानिकों से कहा, ‘इतनी जल्दी दुखी मत होइए। हम चांद पर जरूर पहुंचेंगे। हमारा अगला प्रयास चंद्रयान- 3 होगा जो अगले वर्ष जून में लॉन्च होगा।’
केंद्रीय मंत्री स्मृति इरानी समेत कई गणमान्य हस्तियों इसे रीट्वीट और लाइक किया।
वैज्ञानिकों को बंधाया ढांढस
उसने चिट्ठी में वह बात दोहराई कि चंद्रयान- 2 का ऑर्बिटर कामयाबी से अपना काम कर रहा है। वही हमें बताएगा कि आगे हमें क्या करना है। उसने आगे लिखा, ‘संभव है कि विक्रम चांद की सतह पर उतर गया हो, प्रज्ञान अब भी सही हो और ग्रैफिकल बैंड्स की तैयारी कर रहा हो। ऐसा हुआ तो सफलता हमारे हाथ होगी।’ चिट्ठी के आखिरी पैरे में उसने लिखा कि इसरो के वैज्ञानिक अगली पीढ़ी के बच्चों के लिए प्रेरणा के स्रोत हैं। उसने लिखा, ‘इसरो आप हमारे गौरव है। आपको एक कृतज्ञ राष्ट्र की ओर से हार्दिक धन्यवाद।’
इसरो के साथ खड़ा हुआ पूरा देश
दरअसल, देश का बेहद महत्वाकांक्षी मून मिशन चंद्रयान- 2 में लगे विक्रम लैंडर की 6-7 सितंबर की रात को चांद की सतह पर सॉफ्ट लैंडिंग होनी थी लेकिन, 2.1 किलोमीटर दूर रहते वह पूर्विनिर्धारित रास्ता भटक गया और इसरो सेंटर से उसका संपर्क टूट गया। इस घटना से न केवल इसरो के वैज्ञानिकों बल्कि पूरे देश में निराशा छा गई। हालांकि, बहुत जल्द लोग निराशा के आलम से निकले और वैज्ञानिकों की हिम्मत बढ़ाने में जुट गए। इस काम में हर प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल हुआ। ट्विटर पर कई हैशटैग ट्रेंड हुए जिनमें इसरो की इस मिशन की कामयाबी का बखान किया गया और इस बात का जश्न मनाया गया कि लैंडर विक्रम का संपर्क टूटने के बावजूद चंद्रयान- 2 का 95% लक्ष्य पूरा हो चुका है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *