बच्चों के ल‍िए भी Zoom App खतरनाक, पॉर्न को लेकर CERT ने जारी की एडवाइजरी

नई द‍िल्ली। कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए लॉकडाउन के कारण तमाम दफ्तर से लेकर बच्चों के स्कूल-कॉलेज तक सब बंद है। लोग अपने घर से ही ऑफिस का काम कर रहे हैं, तो वहीं बच्चों के भी अब ऑनलाइन क्लासेज़ शुरू हो गए हैं।
डाउनलोडिंग के मामले में Zoom App गूगल प्ले-स्टोर और एपल एप स्टोर पर टॉप ट्रेडिंग में आ गया है लेकिन इसी बीच सिक्योरिटी और प्राइवेसी को लेकर भी सवाल उठने लगे हैं।

CERT ने जूम एप के इस्तेमाल को लेकर जारी की एडवाइजरी
भारत की कंप्यूटर इमरजेंसी रिस्पांस टीम और राष्ट्रीय साइबर-सुरक्षा एजेंसी ने गुरुवार को लोकप्रिय वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग Zoom App की सिक्योरिटी को लेकर लोगों को आगाह किया है। CERT-In ने कहा है कि जूम एप साइबर हमलों का जरिया बना सकता है। इस एप के जरिए साइबर अपराधी सरकारी और निजी कार्यालयों से डाटा चोरी करके उसका गलत इस्तेमाल कर सकते हैं। सीईआरटी ने कहा है कि Zoom App के साथ डाटा लीक का खतरा है। सुझाव के तौर पर एजेंसी ने कहा है कि जूम एप के इस्तेमाल से पहले एप को अप-टू-डेट रखें और मजबूत पासवर्ड रखें। इसके अलावा एप में वेटिंग फीचर को ऑन रखें ताकि मीटिंग में हिस्सा लेने वाले लोगों पर कंट्रोल बना रहे।

ऑफिस में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग (video confrencing) के ज़रिये मीटिंग्स से लेकर बच्चों की पढ़ाई तक के लिए इस वीडियो ऐप का तेजी से इस्तेमाल बढ़ा। जानकारी के मुताबिक भारत के करीब 20 देशों से 90 हज़ार स्कूल ज़ूम ऐप (zoom app) का इस्तेमाल कर पढ़ाई कर रहे हैं, हालांकि पूरी दुनिया में पॉपुलैरिटी के बीच इससे जुड़े कई सवाल भी खड़े हो गए हैं।

सबसे पहले बता दें कि ज़ूम एक वीडियो कॉन्फ्रेसिंग प्लैटफॉर्म है और हैकर्स ने इस ऐप को अपना निशाना बना लिया है। साइबर क्रिमनल्स क्लास या कॉलेज सेशन के दौरान हैकिंग के ज़रिये इसपर आपत्तिजनक कंटेंट तक पोस्ट कर सकते हैं। इस तरह की हरकत हैकर्स स्क्रीन शेयरिंग फीचर का इस्तेमाल करके करते हैं और ऐसी एक्टिविटी को ‘zoom bombing’ कहते हैं।

फॉक्स न्यूज़ की रिपोर्ट में कहा गया है कि एफबीआई ने कथित ‘ज़ूम बॉम्बिंग’ को लेकर सतर्क किया था, जो वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग हैकिंग से जुड़ा था। एफबीआई ने बताया था कि उसके पास ऐसी कई शिकायतें आई है कि वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान कोई अनजान व्यक्ति कॉन्फ्रेंस में जुड़ गया या किसी अनजान व्यक्ति ने पॉर्न या हेट फोटोज़ या स्पीच के ज़रिए कॉन्फ्रेंस को बाधित करने की कोशिश की।

– एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *