उन्नाव गैंगरेप केस के गवाह युनूस की Forensic रिपोर्ट पुलिस को मिली

उन्नाव गैंगरेप केस में मौत के बाद उठे सवालों के चलते शव कब्र से निकालकर Forensic जांच के लिए भेजना पड़ा था

उन्नाव। उन्नाव गैंगरेप केस में अहम गवाह युनूस के शव की Forensic रिपोर्ट पुलिस को मिल गई है। कुछ दिन पहले एक अहम गवाह युनूस की बीमारी के चलते मौत हो गई थी परंतु मौत के बाद उठे सवालों के चलते पुलिस को मृतक का शव कब्र से निकालकर फॉरेंसिक जांच के लिए भेजना पड़ा था, जिसकी रिपोर्ट आ चुकी है।

उन्नाव में हुए गैंगरेप मामले में एक अहम गवाह युनूस की बीमारी के चलते मौत हो गई थी। युनूस की मौत पर कई सवाल खड़े हो गए थे क्योंकि मौत के बाद परिजनों ने पुलिस -प्रशासन को सूचना दिए बगैर उसे सुपुर्द-ए-खाक कर दिया था।

युनूस आरोपी विधायक कुलदीप सेंगर से जुड़े हुए पीड़िता के पिता की मौत के मामले में सीबीआई का खास गवाह था। बाद में युनूस के शव को उसकी कब्र से निकालकर Forensic जांच के लिए भेजा गया और उसका विसरा सुरक्षित रख लिया गया था।

अब इस मामले में उन्नाव के एसपी को युनूस की Forensic रिपोर्ट (एफएसएल रिपोर्ट) मिल गई है। कैमिकल जांच के लिए युनूस का जो विसरा भेजा गया था उसमें किसी प्रकार के जहर की पुष्टि नहीं हुई है। पुलिस का कहना है कि अब यह साफ हो गया है कि युनूस की मौत किसी जहर से नहीं बल्कि बीमारी के चलते हुई थी इसमें किसी को संदेह नहीं होना चाहिए।

घटना के अनुसार डॉक्‍टरों ने यूनुस के डीएनए सैम्पल के रूप में कॉलर बोन के टुकड़ो, सीने की हड्डी और सिर के बालों को सुरक्षित रखा था। युनूस का लीवर अत्यधिक सिकुड़ा हुआ था जिस वजह से डॉक्टर पहले भी मान रहे थे कि मौत का कारण युनूस की बीमारी है। यूनुस गैंगरेप पीड़िता के पिता की बेरहमी से की गई उस पिटाई का अहम गवाह था जो भाजपा विधायक के भाई तथा अन्य लोगों द्वारा की गई थी।

गौरतलब है कि इसी साल अप्रैल में यूपी के उन्नाव में गैंगरेप का मामला सामने आया था। इस मामले में भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर आरोपी है जो फिलहाल जेल में बंद है। इस मामले की तहकीकात सीबीआई कर रही है।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »