कर्नाटक में योगी ने कहा, हिंदुओं की ताकत देख सिद्धारमैया को हिंदुत्व याद आ गया

बेंगलुरु। कर्नाटक में इसी साल विधानसभा चुनाव होने हैं लिहाजा सिद्धारमैया सरकार को घेरने का बीजेपी कोई मौका नहीं चूक रही। खुद को सौ फीसदी हिंदू बताने वाले सिद्धारमैया के बयान पर अब यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने पलटवार किया है।
बेंगलुरु में आयोजित नव कर्नाटक परिवर्तन रैली में योगी ने कहा, ‘कर्नाटक के मुख्यमंत्री बयान दे रहे हैं कि वह हिंदू हैं। आज उन्होंने हिंदुओं की ताकत देखी तो हिंदुत्व याद आ रहा है। ठीक वैसे ही जैसे राहुल गांधी को गुजरात विधानसभा चुनाव के दौरान मंदिर याद आ रहे थे। हिंदुत्व तो भारत की जीवन पद्धति है। हिंदुत्व कोई जाति, मत या मजहब नहीं है बल्कि भारत के अनुसार जीवन जीना है। जीवन की उत्कृष्तम जीवन पद्धति हिंदुत्व है।’
उन्होंने कहा, ‘हिंदुत्व गोमांस खाने की वकालत नहीं करता। कर्नाटक के सीएम से मैं पूछना चाहता हूं कि अगर वह हिंदू हैं तो गोमांस खाने की पैरवी करना कितना उचित है? कर्नाटक में बीजेपी की सरकार थी, तब गो-संरक्षण के लिए विधेयक लाए थे लेकिन कांग्रेस ने उसे आगे नहीं बढ़ने दिया।’
योगी ने कहा कि जब चुनाव आता है, कांग्रेस को हिंदुओं की ताकत दिखती है तो वह लोगों को जाति में बांटना चाहती है। कांग्रेस आज इस देश के लिए बोझ बन चुकी है। समस्या बन चुकी है। भ्रष्ट आचरण, विभाजनकारी नीतियों के कारण ही कर्नाटक का विकास थम गया है।
दरअसल, बीजेपी ने कर्नाटक में होने वाले विधानसभा चुनाव की तैयारियां अभी से शुरू कर दी हैं। गुजरात और हिमाचल प्रदेश में फतह के बाद अब कर्नाटक में भी भगवा रंग फैलाने के लिए बीजेपी ने योगी आदित्यनाथ को आगे किया है। यही वजह रही कि अपने भाषण के दौरान सीएम योगी ने हिंदुत्व को मुख्य विषय में रखा।
योगी ने कहा कि राम को याद करिए, जब सीता माता का अपहण होता है तो वह जंगल में भटकते हैं। उन्हें कोई राह नही सूझती तो कर्नाटक के जंगल में बजरंगबली ने उन्हें राह दिखाई। सम-विषम परिस्थितियों में राह दिखाने वाला कर्नाटक ऊर्जा का प्रतीक है। कर्नाटक की भूमि ने भगवान राम को राह दिखाई।
उन्होंने कहा कि उनका कर्नाटक से गहरा लगाव है। वह जिस परंपरा से हैं वह कर्नाटक से संबध रखती है। कर्नाटक में भगवान मंजूनाथ के नाम से जाते हैं वही गोरक्षनाथ जी हैं। बेंगलुरु पहुंचे योगी ने बीजीएस अंतर्राष्ट्रीय आवासीय विद्यालय, नित्यानंद नगर और बेंगलुरु के छात्रों को भी संबोधित किया। यहां योगी ने नाथ सम्प्रदाय के स्वामी निर्मलानंदनाथ को कुंभ का लोगो भी भेंट किया।
-एजेंसी