योगी सरकार का फैसला, सरयू किनारे स्‍थापित होगी भगवान राम की 221 मीटर ऊंची मूर्ति

लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार ने अयोध्या में रविवार को आयोजित विश्व हिन्दू परिषद की धर्मसभा के पूर्व वहां सरयू किनारे भगवान श्रीराम की 221 मीटर ऊंची मूर्ति स्थापित करने का फैसला किया है।
सरकारी प्रवक्ता के अनुसार मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शनिवार को मध्यप्रदेश में कई चुनावी जनसभाओं को संबोधित करने के बाद देर शाम लखनऊ पहुंचे। उसके बाद योगी ने अपने सरकारी आवास 5, कालिदास मार्ग पर अयोध्या परियोजना के तहत लगने वाली भगवान राम मूर्ति का प्रेजेंटेशन देखा।
उन्होंने बताया कि प्रतिमा बनाने वाली कुल 5 आर्किटेक्चर फर्मों ने अपनी कार्ययोजना रखी थी। योगी ने 221 मीटर की भगवान श्रीराम मूर्ति का डिजाइन फाइनल करते हुए उसे मंजूरी दे दी है।
अयोध्या में स्थापित होने वाली श्रीराम की विशालकाय प्रतिमा की ऊंचाई 151 मीटर है, जबकि उस पर 20 मीटर ऊंचा छत्र और 50 मीटर का आधार (बेस) होगा। उन्होंने बताया कि मूर्ति के अलावा वहां विश्राम घर, श्रीराम की कुटिया और रामलीला मैदान भी बनाया जाएगा।
गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हाल ही में गुजरात के नर्मदा जिले में सरदार सरोवर बांध के पास लौहपुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल की प्रतिमा ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ का अनावरण किया था। इस प्रतिमा की ऊंचाई 182 मीटर है और यह विश्व की सबसे ऊंची प्रतिमा है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »