योगी सरकार का ऐक्शन, Varanasi पुल हादसे में 7 इंजीनियर गिरफ्तार

वाराणसी। Varanasi पुल हादसे में 18 लोगों की मौत के लिए जिम्‍मेदार 7 इंजीनियर गिरफ्तार कर लिए गए हैं। वाराणसी हादसे के करीब ढाई महीने बाद पुलिस ने हादसे के जिम्मेदार 7 इंजिनियरों और एक ठेकेदार को गिरफ्तार किया है।

उत्तर प्रदेश के Varanasi जिले में 15 मई को निर्माणाधीन पुल का हिस्सा गिरने के कारण हुई 18 लोगों की मौत के बाद शनिवार को पुलिस ने एक बड़ी कार्रवाई की है। कार्यवाही की पुष्टि प्रदेश के पुलिस महानिदेशक ओमप्रकाश सिंह ने की है।

पुलिस के मुताबिक वाराणसी हादसे के मामले में दर्ज केस के तहत शनिवार को पूर्व चीफ प्रॉजेक्ट मैनेजर गेंदालाल, के आर सूदन, एई राजेंद्र सिंह, एई राम तपस्या यादव, जेई लालचंद सिंह, जेई राजेश पाल और ठेकेदार साहेब हुसैन को गिरफ्तार किया गया है। इसके अलावा चीफ प्रॉजेक्ट मैनेजर एससी तिवारी को भी पुलिस हिरासत में लिया गया है। इन गिरफ्तारियों के बाद जांच अधिकारी अब इन सभी से हादसे के पीछे की वजह को लेकर कड़ी पूछताछ कर रहे हैं।

हादसे के बाद कई अफसरों पर हुई कार्रवाई
बता दें कि 15 मई को वाराणसी में हुए पुल हादसे के बाद योगी सरकार ने इसकी जांच के लिए एक विशेष कमिटी का गठन किया था। इसके अलावा हादसे का जिम्मेदार मानते हुए सेतु निगम के कई अफसरों पर भी कार्रवाई की गई थी। पूर्व में एफआईआर दर्ज होने के बाद भी कई दिनों तक हादसे के जिम्मेदार अफसरों की गिरफ्तारी नहीं हुई थी, जिसके बाद विपक्षी दलों के नेताओं ने इसे लेकर सरकार पर निशाना भी साधा था।

गौरतलब है कि 15 मई को वाराणसी में कैंट स्टेशन के पास निर्माणाधीन फ्लाईओवर का हिस्सा गिर जाने के कारण कई लोग इसके नीचे दब गए थे। Varanasi की इस घटना में 18 लोगों की मौत हो गई थी, जबकि 50 से अधिक लोग घायल हुए थे।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »