बीच मीटिंग में मिली योगी आदित्‍यनाथ को पिता के निधन की जानकारी

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पिता आनंद सिंह बिष्ट का निधन हो गया है। वह लंबे अरसे से बीमार चल रहे थे। दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान AIIMS में उन्हें इलाज के लिए भर्ती कराया गया था। यूपी सरकार ने सीएम के पिता आनंद सिंह बिष्ट के निधन की पुष्टि की है।
यूपी के एडिशनल चीफ सेक्रटरी (होम) अवनीश अवस्थी ने बताया, ‘मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पिता का आज सुबह 10 बजकर 44 मिनट पर स्वर्गवास हो गया है। हम उनके निधन पर गहरी शोक संवेदना प्रकट करते हैं।’
पिछले महीने एम्स में हुए थे भर्ती
उत्तराखंड में पौड़ी जिले के यमकेश्वर स्‍थित पंचूर गांव के निवासी आनंद सिंह बिष्ट (89) की बीते महीने ज्यादा तबीयत खराब हो गई थी। इसके बाद उन्हें दिल्ली के एम्स लाया गया था। यहां उन्हें एबी वॉर्ड में रखा गया था। गैस्ट्रो विभाग के डॉक्टर विनीत आहूजा की टीम उनका इलाज कर रही थी। रविवार को उनकी अचानक तबीयत फिर से खराब हो गई थी।
बीच मीटिंग में योगी को दी गई जानकारी
जब पिता का निधन हुआ, उस वक्‍त योगी आदित्‍यनाथ लखनऊ में थे। वे अपनी कोर टीम के साथ लॉकडाउन में ढील और आगे की कार्यवाही को लेकर चर्चा कर रहे थे।
सूत्रों के मुताबिक इसी मीटिंग के बीच उन्‍हें यह दुखद समाचार दिया गया। मगर वह विचलित नहीं हुए और बैठक पूरी करने के बाद ही उठे। मीटिंग में उन्‍होंने अधिकारियों को निर्देश दिया कि कोटा से लौटे बच्‍चों का होम क्‍वारंटीन में रहना सुनिश्चित कराया जाए। साथ ही उनके मोबाइल में Aarogya Setu ऐप डाउनलोड कराने के बाद ही उन्‍हें घर भेजा जाए।
1991 में फॉरेस्ट रेंजर के पद से हुए थे रिटायर
आनंद सिंह बिष्ट को लंबे समय से लीवर और किडनी की समस्या थी। डॉक्टरों ने उनकी डायलिसिस भी की थी। पौड़ी में तबीयत खराब होने के बाद उन्हें पहले जॉलीग्रांट के हिमालयन हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था। हालत में सुधार न होने के बाद उन्हें एयर एंबुलेंस से दिल्ली ले जाया गया। यूपी सीएम के पिता उत्तराखंड में फॉरेस्ट रेंजर थे। वह 1991 में रिटायर हो गए थे। रिटायरमेंट के बाद से वह अपने गांव में आकर रहने लगे थे।
बीजेपी नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने सीएम के पिता के निधन पर शोक संदेश में कहा, ‘उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के पिताजी श्री आनंद सिंह बिष्ट जी के दुखद निधन पर मेरी गहरी संवेदनाएं। ईश्वर से प्रार्थना है कि दिवंगत आत्मा को शान्ति प्रदान करें और शोक संतप्त परिजनों को यह आघात सहने की शक्ति दें।’
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *