Jat सम्मेलन में योगी आदित्यनाथ ने कहा, जाट आरक्षण के पक्ष में है बीजेपी सरकार

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को लखनऊ में Jat सम्मेलन के दौरान साफ किया कि बीजेपी सरकार Jat आरक्षण को लेकर Jat समाज के साथ है. पीडब्ल्यूडी के विश्वेसरैया हाल में भारतीय जनता पार्टी के पिछड़ा वर्ग मोर्चा द्वारा लखनऊ में आयोजित ‘सामाजिक प्रतिनिधि बैठक’ में जाट समाज के प्रतिनिधियों से बैठक हुई. कार्यक्रम में मंच पर सांसद बाबूलाल ने जाट आरक्षण का मुद्दा उठाया. इसके अलावा जाट समाज ने राजा सूरजमल, महेंद्र प्रताप सिंह और चौधरी चरण सिंह में से किसी एक को भारत रत्न देने की मांग की.
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जाट आरक्षण पर सरकार जाट समाज के साथ हैं. उन्होंने कहा कि सरकार ने सामाजिक न्याय की समिति गठित की है. पिछली सरकार अपने लोगों के माध्यम से मामले को कोर्ट ले जाती थी. वो आरक्षण के समर्थन में नहीं थी.
सीएम योगी ने कहा कि हम लोगों ने किसानों का कर्ज माफ किया. हमने गन्ना किसानों को 36000 करोड़ का भुगतान किया. पिछली सरकार के बकाए का भी भुगतान किया. इस दौरान सीएम योगी ने महागठबंधन पर कहा कि जो लोग भारत में अस्थिरता चाहते हैं, वही लोग महागठबंधन की बात कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि देश में स्थिरता लाने वाले लोगों को मोदी जी के साथ खड़ा होना चाहिए. आप राष्ट्रवाद की राजनीति को सहयोग दें.
इस दौरान उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने एससी एसटी एक्ट के मुद्दे पर कहा कि योगी सरकार में किसी के खिलाफ फर्जी मुकदमा नहीं लिखा जा सकता. इसके अलावा केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि मुजफ्फरनगर दंगा भुलाया नहीं जा सकता. सत्ता का उस समय दुरुपयोग किया गया था. उन्होंने कहा​ कि 17 जिले जाट बाहुल्य हैं और आपके चलते ही बीजेपी को बहुमत मिला. डिप्टी सीएम ने कहा कि 2019 के चुनाव के लिए विपक्षी अफवाह फैला सकते हैं. केंद्र और प्रदेश की सरकार आपके साथ है. आपसे हर बूथ पर कमल खिलाने का आह्वान है.
इससे पहले जाट सभा में बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ महेंद्र नाथ पांडेय ने कहा कि सामाजिक प्रतिनिधि सभा का सकारात्मक फीडबैक है. बीजेपी का जाट समाज से गहरा नाता है. कांग्रेस को पहली बार देश में 1967 में बेदखली मिली और उसमें चौधरी चरण सिंह मात्र 17 विधायक लेकर निकले, जिन्हें जनसंघ ने सीएम बनाया था. जाट समाज ने बीजेपी को दिया है और बीजेपी ने जाट समाज को.
मनमोहन सिंह की सरकार को सपा और बसपा ने चलाकर निजी फायदा उठाया. पर बीजेपी सरकार ने देश और प्रदेश का कल्याण किया. 2019 में मजबूत देश बनाने के लिए फिर एक बार नरेंद्र मोदी को पीएम बनवाइए. इस दौरान सत्यपाल सिंह ने कहा कि जाट बिरादरी हमेशा राष्ट्रवादी रहा है. बीजेपी का सिद्धांत और जाटों का सिद्धांत एक है. किसानों के लिए सबसे अधिक काम बीजेपी ने किया है.
सीएम योगी ने कहा कि देश की राजधानी को जाट समाज ने घेर रखा है. मुगलकाल में भी जाट समाज ने अपनी संस्कृति नहीं छोड़ी. सपा के कार्यकाल में पश्चिमी उत्तर प्रदेश में साप्ताहिक दंगे होते थे. पिछली सरकार में चिन्हित कर कार्रवाई की जाती थी. बीजेपी तुष्टीकरण की राजनीति नहीं करती है.
-एजेंसिया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »