संस्कृति आयुर्वेदिक कॉलेज एवं हॉस्पिटल में योग पखवाड़ा शुरू

मथुरा। संस्कृति विश्वविद्यालय के आयुर्वेदिक कॉलेज एवं हॉस्पिटल ने आज Yoga पखवाड़े का शुभारम्भ विश्वविद्यालय के सभागार में शुरू किया।

इस उद्घाटन कार्यक्रम के दौरान Yoga पखवाड़े में प्रतिदिन होने वाले कार्यक्रमों की सम्पूर्ण रूपरेखा तैयार कर ली गई है जिससे कि २१ जून को होने वाले अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस को पूर्ण सफलता के साथ भव्य तरीके से मनाया जा सके। कार्यक्रम का शुभारम्भ दीप प्रज्ज्वलन एवं माँ सरस्वती की मूर्ति पर माल्यार्पण कर विधिवत तरीके से किया गया।

कुलाधिपति सचिन गुप्ता ने अपने सन्देश में कहा कि योग विद्या भारत के द्वारा पूरे विश्व को दिया गया बहुत बड़ा वरदान है। उन्होंने इस अवसर पर अधिष्ठाताओं, संयुक्त कुलसचिव, विभागाध्यक्षों, प्राध्यापकों एवं छात्रों से अपील की वे प्रतिदिन कम से कम १५ से ३० मिनट तक योगाभ्यास करें एवं अपने परिवारजनों, मित्रों एवं इष्टजनों को भी योगाभ्यास करने के लिए प्रेरित करें। प्रतिदिन योगाभ्यास करने से शरीर स्वस्थ और मन निर्मल रहता है। उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि योग शिक्षा को नई शिक्षा नीति में पूर्णतया समाहित कर स्कूलों, कॉलेजों तथा विश्वविद्यालयों में पूरी तन्मयता के साथ अध्यापन एवं अभ्यास करना चाहिए।

उप कुलाधिपति राजेश गुप्ता ने अपने सन्देश में कहा कि योगाभ्यास का जीवन शैली में समावेश करने से इंसान स्वस्थ रहता है। योगाभ्यास से शरीर का वजन, रक्त चाप एवं शुगर लेवल सब नियंत्रण में रहता है जो कि मानसिक स्वास्थ्य के लिए नितांत आवश्यक है। नियमित योगाभ्यास इंसान को दीर्घायु बनता है।

इस अवसर पर उद्घाटन उद्बोधन देते हुए कुलपति डॉ. राणा सिंह ने कहा कि योग शरीर और आत्मा को एकीकृत करता है। उन्होंने सभागार में मौजूद सभी सदस्यों को योग की महत्ता को समझाया और कहा कि भारत सरकार के आयुष मंत्रालय द्वारा सभी प्रकार के योगासन के बारे में कॉमन योग प्रोटोकॉल आयुष मंत्रालय की वेबसाइट पर लगा दिया गया है और उन्हें योग प्रशिक्षकों द्वारा वृहद ट्रेनिंग भी प्रदान की जायेगी ताकि वे योगाभ्यास को प्रतिदिन अपने दैनिक दिनचर्या का अभिन्न अंग बना सकें।

इस शुभ अवसर पर संस्कृति आयुर्वेदिक कॉलेज एवं हॉस्पिटल के प्रिंसिपल डॉ. सुनील वर्मा ने अपने सन्देश में कहा कि आयुष मंत्रालय ने कॉमन योग प्रोटोकॉल को फेसबुक पर भी वीडियो समेत विस्तृत रूप से ट्रेनिंग के रूप में अपलोड कर दिया है ताकि सभी वर्गों के सदस्य उन्हें स्वतः देख कर एवं सीख कर अपने जीवन शैली में समाहित कर सकते हैं।
उद्घाटन कार्यक्रम में विश्वविद्यालय के सभी सदस्यों को विभिन्न कॉमन योग प्रोटोकॉल के बारे में विस्तार से बताया गया।

उद्घाटन अवसर पर संस्कृति आयुर्वेदिक कॉलेज एवं हॉस्पिटल के डॉ. पवन गुप्ता, डॉ. हेमंत, डॉ तन्वी काकड़े एवं अन्य प्राध्यापकगण, डीन, जॉइंट रजिस्ट्रार, विभागाध्यक्षों एवं अन्य सदस्यों ने सभी सदस्यों को पूरी शिद्दत से योग पखवाड़ा के उद्घाटन समारोह में भाग लेने के लिए बधाई एवं धन्यवाद दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »