Yes Bank ने की फर्जी खबरें फैलाने पर साइबर सेल में शिकायत

मुंबई। Yes Bank की ओर से रविवार को जानकारी दी गई कि उसकी तरफ से मुंबई पुलिस और साइबर सेल में उन लोगों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई गई है, जो बैंक की खराब वित्तीय हालत को लेकर झूठी खबर प्रसारित कर रहे हैं।

Yes Bank ने बैंक की वित्तीय हालत को लेकर सोशल मीडिया पर चल रही कुछ फर्जी खबरों के खिलाफ मुंबई पुलिस और साइबर सेल में शिकायत दर्ज कराई है। रविवार को बैंक ने इसकी जानकारी दी। ये शिकायत पिछले कुछ दिनों के दौरान स्टॉक एक्सचेंज में शेयरों में भारी गिरावट और प्रमोटरों की हिस्सेदारी और शेयरों में कटौती को लेकर चल रही अफवाह के खिलाफ की गई है।

यस बैंक ने विनियामक फाइलिंग में कहा, ‘बैंक ने व्हाट्सएप और अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर बैंक की वित्तीय हालत के बारे में अफवाह फैलाने के खिलाफ मुंबई पुलिस और साइबर सेल में शिकायत दर्ज कराई है।’ बैंक ने कहा है कि ऐसे लोगों की एक टीम बनाई जाए जो यह पता लगा सके कि इस तरह की फर्जी खबरों की उत्पत्ति कहां से हो रही है, और इसके पीछे प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष तौर पर कौन जुड़ा है।

बैंक ने कहा कि पिछले कुछ दिनों से कुछ शरारती लोग व्हाट्सएप और अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर यस बैंक के बारे में गलत जानकारी और दुर्भावनापूर्ण अफवाहें फैला रहे हैं ताकि इसके जमाकर्ताओं के मन में बैंक के प्रति घबराहट और भय का माहौल पैदा हो सके। उसने कहा कि बैंक को लेकर खराब माहौल बनाने की कोशिश की जा रही है। बैंक ने कहा कि ऐसी कोशिश की जा रही है कि हमारे जमाकर्ताओं, स्टेकहोल्डर्स की नजरों में बैंक की छवि खराब की जा सके।

यस बैंक ने कहा कि वह अपने सभी स्टेकहोल्डर्स और ग्राहकों के हितों की रक्षा करने के लिए प्रतिबद्ध है और जो भ्रम फैलाये जा रहे हैं इसके खिलाफ मजबूत कदम उठाएगी। यस बैंक ने कहा, ‘बैंक अपने भरोसेमंद ग्राहकों से अपील करता है कि वे बैंक के खिलाफ प्रसारित झूठी सूचनाओं से सावधान रहें और बेफिक्र रहे, क्योंकि बैंक की वित्तीय स्थिति पूरी तरह से सुरक्षित और मजबूत बनी हुई है।’

स्टेकहोल्डर्स के हित नहीं होंगे प्रभावित

बैंक ने कहा कि उनकी तरफ से शिकायत दर्ज कराकर कहा गया है कि व्हाट्सएप और अन्य सोशल साइट्स पर गलत खबर फैलाने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएं और इस तरह की खबरों के स्रोत का पता लगाया जाएं।

  • एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »