Yamuna प्राधिकरण जमीन घोटाला मामले में दो तहसीलदार निलंबित किए

ग्रेटर नोएडा। Yamuna प्राधिकरण में हुए जमीन घोटाले में शासन की ओर से बड़ी कार्रवाई की गई है। शासन ने मास्टर प्लान से बाहर जमीन खरीदकर 126 करोड़ का घोटाला करने में शामिल दो तहसीलदारों को निलंबित कर दिया है।

जानकारी के अनुसार, एक तहसीलदार रणबीर इस समय अलीगढ़ में तैनात हैं, जबकि दूसरे तहसीलदार चमन सिंह यमुना प्राधिकरण में तैनात हैं। इस मामले में रिपोर्ट दर्ज होने के बाद से वह ऑफिस नहीं आ रहे थे। इस मामले रिटायर्ड आईएएस पीसी गुप्ता जेल में है।

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश सरकार ने 126 करोड़ से अधिक के जमीन घोटाने के आरोपी यमुना एक्सप्रेस-वे अथॉरिटी के पूर्व मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) पीसी गुप्ता के खिलाफ केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) जांच की सिफारिश कर दी है।

एक्सप्रेस-वे अथॉरिटी ने हाल ही में प्रकरण की विभागीय जांच की थी। तत्कालीन सीईओ पीसी गुप्ता के खिलाफ जांच में पाए गए सबूत के आधार पर ही प्रकरण सीबीआई को सौंपा गया।

नोएडा पुलिस ने गुप्ता को जून में मध्य प्रदेश के दतिया से गिरफ्तार किया था। गुप्ता को Yamuna एक्सप्रेस-वे अथॉरिटी के सीईओ रहने के दौरान 120 करोड़ रुपये का घोटाला करने का दोषी पाया गया है।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »