दुनिया भर है 5 कंपनियों के स्मार्टफोन का जलवा

दुनिया में आज बहुत कम लोग होंगे, जो स्मार्टफोन का इस्तेमाल नहीं करते होंगे। हालांकि कुछ ‘पिछड़े’ देशों में स्थिति अलग हो सकती है, लेकिन स्मार्टफोन आज दुनिया भर में लोगों की आधारभूत जरूरत बन चुकी है। टेक्नोलॉजी में विकास के साथ ही मोबाइल फोन अब फोन नहीं रहे, बल्कि ‘स्मार्टफोन’ बन चुके हैं।
आइए जानते हैं कि दुनिया भर में किन 5 कंपनियों का स्मार्टफोन के क्षेत्र में जलवा है-
सैमसंग: इस दक्षिण कोरियाई कंपनी का स्मार्टफोन के बाजार में पुरी दुनिया में जलवा है। इसके अलावा यह दूसरी स्मार्टफोन कंपनियों को भी स्मार्टफोन के चिप और स्क्रीन का सप्लाई करती है। सैमसंग की वैश्विक स्मार्टफोन बाजार में 23.3 फीसदी हिस्सेदारी है और भारत में भी सबसे ज्यादा फोन इसी कंपनी के बिकते हैं। कंपनी ने साल 2017 में अपने कारोबार में 1.4 फीसदी की वृद्धि दर्ज की है। कंपनी के प्रमुख मॉडल में ‘एस’ सीरीज और ‘नोट’ सीरीज के फ्लैगशिप स्मार्टफोन के अलावा ‘ए’ सीरीज और ‘जे’ सीरीज के मध्यम कीमत खंड के मॉडल शामिल हैं। पिछले साल कंपनी ने कुल 7.98 करोड़ स्मार्टफोन की बिक्री की।
ऐपल: सैमसंग के बाद पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा ऐपल के फोन बिकते हैं और कंपनी की बाजार हिस्सेदारी 12 फीसदी है। कंपनी ने पिछले साल दुनिया भर में कुल 4.1 करोड़ आईफोन्स की बिक्री की और साल-दर-साल आधार पर 1.5 फीसदी की वृद्धि दर्ज की है। स्मार्टफोन ही नहीं बल्कि ऐपल द्वारा बनाए गए सभी प्रॉडक्ट चाहे वह लैपटॉप हो, मैकबुक हो, आईपैड हो, सभी बेहतरीन होते हैं और उच्च स्तर की प्रौद्योगिकी से लैस होते हैं। ऐपल का नया आईफोन एक्स पिछले साल नवंबर और दिसंबर में दुनिया के विभिन्न बाजारों में लॉन्च किया गया था, जिसकी हर जगह जबरदस्त मांग है और कंपनी मांग के हिसाब से इस फोन का उत्पादन नहीं कर पा रही है। इसके कारण खरीदार इस फोन का इंतजार करते हैं।
वावे: चीन की कंपनी वावे की वैश्विक स्मार्टफोन बाजार में 11.3 फीसदी हिस्सेदारी है। पिछले साल कंपनी ने कुल 3.85 करोड़ स्मार्टफोन की बिक्री की। कंपनी के फ्लैगशिप स्मार्टफोन पी10 के साथ ही मिड रेंज सेगमेंट के स्मार्टफोन्स की खूब बिक्री होती है। अमेरिकी बाजार में कंपनी का प्रदर्शन अभी उतना अच्छा नहीं है, यही कारण है कि शीर्ष 10 की सूची में कंपनी तीसरे नंबर पर है। कंपनी स्मार्टफोन के अलावा कंप्यूटर, टैबलट और ब्रॉडबैंड डिवाइस भी बनाती है।
ओपो: ओपो स्मार्टफोन की बिक्री के मामले में दुनिया में चौथे नंबर पर है। कंपनी ने साल 2017 में दुनिया भर में कुल 2.78 करोड़ स्मार्टफोन की बिक्री की और कंपनी की बाजार हिस्सेदारी 8.1 फीसदी रही। कंपनी ने इसके पिछले साल की तुलना में अपनी बाजार हिस्सेदारी में 1.5 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की। चीन की यह कंपनी अपने अंतरर्राष्ट्रीय कारोबार का तेजी से विस्तार कर रही है, खासतौर से दक्षिणपूर्व एशिया के बाजारों में कंपनी की पैठ तेजी से बढ़ी है। भारत में कंपनी ने तेजी से अपने नेटवर्क का विस्तार किया है और आक्रामक विज्ञापन अभियान चलाया है। यही कारण है कि हर जगह कंपनी के विज्ञापन प्रमुखता से दिखते हैं।
शाओमी: शाओमी का नोट 4 भारत में सबसे ज्यादा बिकने वाला फोन है। वैश्विक स्तर पर कंपनी पांचवे नंबर पर है। कंपनी ने पिछले साल दुनिया भर में कुल 2.12 करोड़ स्मार्टफोन की बिक्री की और इसकी बाजार हिस्सेदारी 6.2 फीसदी है। भारतीय बाजार पर शाओमी प्रमुखता से ध्यान दे रही है और देश भर में अपने ऑफलाइन नेटवर्क का विस्तार कर रही है। कंपनी ने पिछले छह महीनों में भारत में अपने सर्विस सेंटर की संख्या को दोगुना कर लिया है। कंपनी स्मार्टफोन के अलावा लैपटॉप और उपभोक्ता इलेक्ट्रॉनिक्स सामानों का भी उत्पादन करती है। कंपनी की नजर अब वैश्विक ड्रोन बाजार है और इस साल वह ड्रोन के कई किफायती और प्रीमियम मॉडल लॉन्च करने वाली है।
-एजेंसी