विश्व सिंधी कांग्रेस ने पाक में हिंदू संधियों पर हो रहे अत्‍याचार का मुद्दा उठाया

जिनेवा। विश्व सिंधी कांग्रेस की चेयरपर्सन रुबिना ग्रीनवुड ने पाकिस्तान के सिंध में ईश निंदा कानून के तहत हिंदू अल्पसंख्यकों संग हो रहे दुर्व्यवहार पर विरोध जताया है।
पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों संग हो रहे दुर्व्यवहार पर उन्होंने कहा कि हमें ऐसा लगता है कि यह जानबूझकर और प्रेरित घटना है जिससे जरूरी मुद्दों से लोगों का ध्यान भटकाया जा सके। यह पूरी तरह से राजनीति से प्रेरित है।
यह मामला हमारे संपूर्ण व्यवस्था के दमन और हिंदू सिंधियों पर किए जा रहे अत्‍याचारों से जुड़ा हुआ है।
हाल ही में पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों के साथ बर्बरता का एक वीडियो वायरल हुआ था। सिंध प्रांत के घोतकी इलाके में कट्टरपंथियों ने एक मंदिर में जमकर तोड़फोड़ की थी। यह विवाद एक हाईस्कूल के हिंदू प्रिंसिपल पर ईश निंदा के झूठे आरोपों से शुरू हुआ था।
एक छात्र ने प्रिंसिपल पर ईशनिंदा का आरोप लगाया था। इसकी खबर जब कट्टरपंथियों को लगी तो उन्होंने स्कूल और मंदिर पर हमला बोल दिया और जमकर तोड़फोड़ की। ध्‍यान देने वाली बात यह रही कि वहां मौजूद पुलिस तमाशबीन बनी रही। इस घटना के बाद घोटकी में सन्नाटा पसर गया। इन दिनों पाकिस्तान के सिंध प्रांत में हिंदू समुदाय के लोग बुरी तरह से डरे हुए हैं।
इसके पूर्व यूएन में विश्व सिंधी कांग्रेस की रुबीना ग्रीनवुड ने पाक की पोल खोलते हुए कहा था कि पाकिस्तान में इस्लामिक लड़ाई का शिकार सिंध प्रांत हो रहा है। पाकिस्तान के बनने के पहले दिन से ही सिंध को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। साथ ही रुबीना ने पाक पर सिंध में रहने वाले हिंदुओं के जबर्दस्ती निर्वासित करने का आरोप भी लगाया था।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »