World Aids Day आज: फर्क है AIDS और HIV में

ज्यादातर लोग Aids और HIV में फर्क नहीं समझते, इसमें अंतर है और इसे समझना बहुत जरूरी है। वर्ल्ड एड्स डे पर आइए बढ़ाते हैं थोड़ी जानकारी।
अक्वॉयर्ड इम्यूनो डिफिशियंसी सिंड्रोम (AIDS) ऐसे कई लक्षणों को कहते हैं जो कि ह्यूमन इम्यूनो डिफिशियंसी वायरस (HIV) के इन्फेक्शन की वजह से होते हैं। ध्यान देने वाली बात यह है कि इन्फेक्शन होने के बाद इंसान में कोई खास तरह के लक्षण नहीं दिखाई देते बल्कि इनफ्लूएंजा जैसे लक्षण दिखाई देते हैं। इसके बाद काफी लंबे समय तक कोई समस्या नजर नहीं आती। ज्यादातर लोग AIDS और HIV में फर्क नहीं समझते। HIV इन्फेक्शन होने का मतलब AIDS होना नहीं है, इसमें अंतर है और इसे समझना बहुत जरूरी है। जानकारी।
क्या है HIV
HIV वायरस है जो AIDS फैला सकता है और नहीं भी। ज्यादातर लोगों को लगता है कि HIV और AIDS में सिर्फ इतना फर्क है कि HIV एक वायरस है जो कि AIDS फैलाता है, जैसे यीस्ट वजाइनल इन्फेक्शन फैलाता है। हालांकि अगर यीस्ट वजाइना में पहुंच जाए तो तय है कि आपको यीस्ट इन्फेक्शन होगा लेकिन अगर आपके शरीर में HIV का अटैक हो तो जरूरी नहीं कि आपको एड्स हो ही जाए। समय पर इलाज होने पर इससे बचा जा सकता है।
क्या है AIDS
एड्स एचआईवी इन्फेक्शन की सबसे सीवियर (तीसरी या आखिरी) स्टेज है। इससे पहले दो स्टेजेज और होती हैं। एड्स एक कलेक्टिव टर्म है जो कि एचआईवी से जुड़ी कई समस्याओं को रिफर करता है।
एचआईवी की पहली स्टेज
एचआईवी इन्फेक्शन की 3 स्टेजज होती हैं जिसमें लास्ट स्टेज को एड्स कहते हैं। एचआईवी इन्फेक्शन के 6 हफ्ते बाद फर्स्ट फेज होती है जिसमें बुखार, ठंड लगना, गले में खराश, जोड़ों और मसल्स में दर्द, थकान वगैरह के लक्षण होते हैं।
दूसरी स्टेज
इस स्टेज में कोई लक्षण नहीं दिखाई देते। कुछ लोगों में यह स्टेज 20 साल तक चल सकती है। वैसे कोई लक्षण नहीं दिखते पर शरीर की प्रतिरोधक क्षमता कम होती जाती है।
स्क्रीनिंग कराएं
बचने का सबसे अच्छा तरीका यह है कि आप साल, दो साल में स्क्रीनिंग करवाते रहें। क्योंकि पहली स्टेज इन्फ्लूएंजा की तरह निकल जाती है और बाकी स्टेज में कोई लक्षण नहीं दिखता। कई लोगों को नहीं पता चलता कि इन्हें इन्फेक्शन हुआ है और वह दूसरों तक भी इन्फेक्शन फैला देते हैं इसलिए जरूरी है कि आप और आपके सेक्शुअल पार्टनर एचआईवी इन्फेक्शन के लिए अलर्ट रहें।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »