Mental diseases के कारण और निवारण पर 13 को होगी कार्यशाला

मथुरा। आज हमारा देश आर्थिक विकास के क्षेत्र में जहां द्रुतगति से आगे बढ़ रहा है वहीं जन सामान्य लगातार Mental diseases का शिकार हो रहा है। हम कह सकते हैं कि आर्थिक विकास ने हमें Mental diseases का उपहार दिया है। मानसिक स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार कैसे हो इस बात को दृष्टिगत रखते हुए के.डी. मेडिकल कालेज-हास्पिटल एण्ड रिसर्च सेण्टर में 13 अक्टूबर को मानसिक रोगों के कारण और निवारण पर एक कार्यशाला (सी.एम.ई.) का आयोजन किया जा रहा है।

के.डी. मेडिकल कालेज-हास्पिटल एण्ड रिसर्च सेण्टर के जाने-माने मनोचिकित्सक डा. गौरव सिंह का कहना है कि इस एक दिवसीय कार्यशाला में मेडिकल सुपरिंटेंडेंट आई.एम.एच.एच. आगरा, डा. दिनेश राठौर, विभागाध्यक्ष मेयो मेडिकल कालेज लखनऊ डा. पीयूष चौहान तथा डी.एम. डी-एड्यूशन ए.आई.आई.एम.एस. नई दिल्ली डा. मोहित वार्ष्णेय मथुरा जनपद के इम्प्रूविंग मेडिकल प्रोफेशनल्स को मानसिक रोगों के कारण और निवारण पर विस्तार से जानकारी देंगे। यह मथुरा जनपद में अपने तरह की पहली कार्यशाला है।

डा. श्वेता चौहान का कहना है कि भारत में मानसिक रोगियों के जांच और उपचार की सुविधाएं आमजन की पहुंच से बहुत दूर हैं, यहां तक कि 90 फीसदी लोगों को तो सही इलाज भी नसीब नहीं हो पाता। डा. चौहान का कहना है कि इस सी.एम.ई. में देश के विख्यात मनोचिकित्सक चिकित्सा के क्षेत्र में कार्य कर रहे लोगों को जो जानकारी देंगे उसका लाभ मथुरा जनपद के साथ ही अन्य जिलों के चिकित्सकों को भी मिलेगा। मनोचिकित्सक डा. गौरव सिंह ने मथुरा जनपद के सभी पंजीकृत चिकित्सकों से कार्यशाला में शिरकत करने का आह्वान किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »