वेंटीलेटर पर रही महिला की KD हॉस्पिटल के डॉक्‍टर्स ने बचाई जान

मथुरा। शुक्रवार का दिन उन तीन छोटे-छोटे बच्चों के लिए खुशियों का पैगाम लेकर आया जिनकी कोरोना संक्रमित मां को के.डी. हॉस्पिटल के सुयोग्य चिकित्सकों ने नई जिन्दगी प्रदान की। वेंटीलेटर पर जाने के बाद किसी की जान बचाना आसान नहीं होता लेकिन के.डी. हॉस्पिटल के चिकित्सकों ने महिला की जान बचाकर उसके पति और बच्चों के चेहरे पर मुस्कान लौटा दी। पत्नी की आज जैसे ही निगेटिव रिपोर्ट आई पति ने आर.के. एज्यूकेशन हब के अध्यक्ष डा. रामकिशोर अग्रवाल का आभार मानते हुए डॉक्टर्स, नर्सेज तथा पैरा मेडिकल कर्मचारियों को पटके भेंटकर सम्मानित किया।

 

शुक्रवार शाम सात बजे तक के.डी. हॉस्पिटल से 252 कोरोना संक्रमित स्वस्थ होकर अपने-अपने घरों को लौट चुके हैं। मथुरा जनपद में जहां कोरोना संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ रही है वहीं हर कोई के.डी. हॉस्पिटल की बेहतरीन व्यवस्थाओं को देखते हुए यहीं उपचार कराने की जिद कर रहा है। यह सिर्फ विश्वास और भरोसे की बात है, जिसे के.डी. हॉस्पिटल ने अपनी अधुनातन चिकित्सा सुविधाओं और निडर चिकित्सकीय दल के प्रयासों से हासिल किया है।

कोरोना संक्रमण के खिलाफ के.डी. हॉस्पिटल की सफलता के आंकड़े सिर्फ मथुरा जनपद के लिए ही नहीं समूचे उत्तर प्रदेश के लिए नजीर हैं।
लोगों को जानकर आश्चर्य होगा कि इस चिकित्सा संस्थान के मुखिया डॉ. रामकिशोर अग्रवाल प्रतिपल-प्रतिक्षण हर कोरोना संक्रमित की जानकारी रखने के साथ अपने चिकित्सकीय योद्धाओं को शाबासी देते हुए उनमें सेवाभाव का बोध कराते रहते हैं।

डा. अग्रवाल चाहते हैं कि के.डी. हॉस्पिटल आया हर इंसान स्वस्थ होकर अपने घर जाए। देखा जाए तो के.डी. हॉस्पिटल में लगभग तीन महीने में ढाई सौ से अधिक लोगों को नई जिन्दगी मिल चुकी है। इस संबंध में क्रिटिकल केयर और विभागाध्यक्ष निश्चेतना डॉ. ए.पी. भल्ला का कहना है कि के.डी. हॉस्पिटल की अब तक की कोशिशें टीम प्रयासों और बेहतर सुविधाओं से ही पीड़ितों के लिए लाभदायक साबित हुई हैं।

कोविड सेण्टर प्रमुख डॉ. गौरव सिंह का आज स्वस्थ होकर घर लौटी महिला के बारे में कहना है कि वह जब के.डी. हॉस्पिटल आई थी तब उसकी स्थिति कतई बचने लायक नहीं थी लेकिन चिकित्सकों के प्रयासों और अपने बच्चों के भाग्य से वह वेंटीलेटर में जाने के बाद भी कोरोना को मात देने में सफल हुई।

कोरोना संक्रमितों को नया जीवन देने वालों में क्रिटिकल केयर और विभागाध्यक्ष निश्चेतना डॉ. ए.पी. भल्ला, मेडिसिन विशेषज्ञ डॉ. सौरभ सिंघल, डॉ. पी.के. पाढ़ी, डॉ. मयंक माथुर, नर्सेज तथा पैरामेडिकल स्टाफ शामिल है।
आर.के. एज्यूकेशन हब के अध्यक्ष डॉ. रामकिशोर अग्रवाल, उपाध्यक्ष पंकज अग्रवाल, डीन डॉ. रामकुमार अशोका, चिकित्सा अधीक्षक डॉ. राजेन्द्र कुमार तथा श्री अरुण अग्रवाल लगातार डॉक्टर्स, नर्सेज तथा पैरामेडिकल स्टाफ के सेवाभाव को सराह रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *