वर्धा में महिला लेक्चरर को कॉलेज के सामने ही जलाया, गंभीर

वर्धा। महाराष्ट्र के वर्धा में एक महिला लेक्चरर को उसके कॉलेज के बाहर ही जलाए जाने का मामला सामने आया है। यह घटना वर्धा जिले के हिंगणघाट इलाके में सोमवार की सुबह हुई। 25 वर्षीय लेक्चरर की पहचान अंकिता पिसुद्दे के तौर पर हुई है जिनको करीब 40 फीसद जली हुई हालत में नागपुर के एक हॉस्पिटल में इलाज चल रहा है।

वर्धा के हिंगणघाट के नंदोरी चौक में यह घटना हुई। पुलिस ने आरोपी बिकेश नगराले को हिरासत में ले लिया है और उसके खिलाफ हत्या की कोशिश का मामला दर्ज किया गया है। 40 फीसद जल चुकी लेक्चरर नागपुर के ओरनसिटी हॉस्पिटल ऐंड रिसर्च सेंटर में जिंदगी और मौत के बीच जूझ रही है।

मिली जानकारी के अनुसार आरोपी नगराले शादीशुदा है। वह बाइक से पीछे की तरफ से आया और मातोश्री आशाताई कुमावर महिला विद्यालय के पास ही अंकिता को रोक लिया, जहां वह पढ़ाती हैं। आरोपी ने इसके बाद अंकिता के ऊपर किरोसीन डालकर आग लगा दिया। पुलिस इस हमले के पीछे की वजह तलाश रही है लेकिन एकतरफा प्यार को ही इसकी वजह माना जा रहा है।

महिला की हालत गंभीर

मौके पर उपस्थित लोगों ने बताया कि आरोपी, महिला को आग के हवाले करने के बाद मौके से फरार हो गया। वहां मौजूद लोगों ने आग की लपटों में घिरी अंकिता की मदद की और आग पर काबू पाया। तब तक पुलिस भी घटना की सूचना पाकर पहुंच गई। अंकिता की गंभीर हालत को देखते हुए उन्हें फौरन नागपुर ले जाया गया। वहीं डॉक्टरों ने बताया कि अंकिता के चेहरे, सिर, गर्दन सबसे अधिक प्रभावित हुआ है, जिससे श्वसन तंत्र पर असर पड़ा है।

एकतरफा प्यार का मामला

बताया जा रहा है कि आरोपी और महिला एक-दूसरे को जानते थे। सोमवार को जब उसने प्यार का इजहार किया तो महिला ने साफ मना कर दिया। जिसके बाद उसने घटना को अंजाम दिया। मामले में तेजी से कार्रवाई करते हुए पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। बताया जा रहा है कि वह पीड़िता की शादी कहीं और तय हो जाने से भी नाराज था।

– एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *