कानपुर में 5 वर्षीय बेटे को 11वीं मंजिल से फेंक महिला ने भी दी कूदकर जान

कानपुर के इन्द्रानगर में डिविनिटी होम्स अपार्टमेंट की 11वीं मंजिल से मासूम बेटे को नीचे फेंककर मां भी नीचे कूद गयी। मां-बेटे की मौत से अपार्टमेंट में हड़कंप मच गयी। महिला सीजोफ्रेनिया नाम की मानसिक बीमारी से ग्रसित थी और अचानक दौरे पड़ने पर ऐसी हरकतें करती थी।
पत्रकारपुरम के रोहणी अपार्टमेंट में रहने वाले सीए पवन अग्रवाल ने डिविनिटी होम्स अपार्टमेंट की 11वीं मंजिल में एक और फ्लैट खरीदा था। रविवार को दोपहर बाद वह पत्नी जया अग्रवाल की जिद पर पत्नी के साथ 5 साल के बेटे उत्कर्ष और दूसरे बेटे को लेकर डिविनिटी होम्स अपार्टमेंट पहुंच गए। सभी फ्लैट देख रहे थे तभी अचानक जया को दौरा पड़ा और छोटे बेटे उत्कर्ष को लेकर बालकनी की तरफ भागी। पवन कुछ समझ पाते तब तक जया ने बेटे को 11वीं मंजिल से नीचे फेंक दिया। इस पर पवन और दूसरा बेटा चिल्लाने लगे और जया को पकड़ा। चिल्लाने की आवाज सुनकर पड़ोस में रहने वाले लोग बाहर निकल आए।
पवन और पड़ोसी भाग कर नीचे पहुंचे और उत्कर्ष को उठाकर अस्पताल ले जाने लगे। वह कुछ दूर ही पहुंचे थे तभी जया भी चीखते हुए 11वीं मंजिल से नीचे कूद गयी। पवन वापस लौटे तब तक सब कुछ खत्म हो चुका था, पत्नी और बेटे की दोनों की मौत हो चुकी थी। मां-बेटे की मौत से अपार्टमेंट में हड़कंप मच गया, सबी लोग नीचे फतर आए और पुलिस को खबर की।
-एजेंसी