निर्भया कांड पर आंसू बहाने वाली जया बच्‍चन मंदसौर रेप पर चुप क्‍यों: अमर सिंह

लखनऊ। कभी बॉलिवुड के महानायक अमिताभ बच्‍चन के परिवार बेहद करीबी रहे समाजवादी पार्टी से निष्‍कासित राज्‍यसभा सांसद अमर सिंह ने मंदसौर में मासूम बच्‍ची के साथ गैंगरेप की घटना के बहाने बिग बी की पत्‍नी और एसपी सांसद जया बच्‍चन पर निशाना साधा है। अमर सिंह ने कहा कि दिल्‍ली में निर्भया कांड पर संसद में आंसू बहाने वाली जया बच्‍चन अपने मायके हुई इस वीभत्‍स घटना पर चुप हैं। उन्‍होंने यह भी कहा कि सिलेब्रेटी मंदसौर की घटना के खिलाफ आवाज नहीं उठा रहे हैं।
अमर सिंह ने सोमवार शाम अपने वीडियो ट्वीट कर कहा कि निर्भया रेप की घटना ने रेप पीड़िताओं के प्रति देश के लोगों में जागरूकता और सहानुभूति पैदा किया। कई सारे सेलिब्रेटी और सामाजिक कार्यकर्ता आगे आए। जया बच्‍चन तो संसद में रो पड़ीं। जया बच्‍चन सहित पूरा सिलेब्रेटी समुदाय मंदसौर में रेप की घटना पर चुप है।’
अमर सिंह ने कहा, ‘निर्भया का बलात्‍कार हुआ तो बड़ी संख्‍या में सोशल ऐक्टिविस्‍ट मोमबत्तियां लेकर सड़क पर उतर आए। इसके बाद कानून में आमूल-चूल बदलाव हुआ। यह बदलाव इस कदर हुआ कि अगर किसी के साथ 20 साल या 30 साल पहले अगर कुछ हुआ है तो उसे भी रेप की संज्ञा दे दी गई। फिल्‍म ऐक्‍टर जितेंद्र के खिलाफ किसी ने बलात्‍कार का मुकदमा कर दिया। भारत में मी टु कैंपेन चला।’
राज्‍यसभा सांसद ने कहा, ‘आपसी सहमति से 2 साल तक साथ रहने वाली रहने वाली महिलाएं भी अब ब्‍लैकमेल पर उतारू हैं। इतना असर पड़ा निर्भया आंदोलन का। जया बच्‍चन तो निर्भया के गम में संसद में रोने लगीं। अब मंदसौर में लोमहर्षक कांड हुआ है लेकिन सिलेब्रेटी सामने नहीं आ रहे हैं। जया बच्‍चन जी अब आप नहीं रो रही हैं। यह तो आपके मायके की घटना है, जहां आप पली-बढ़ी हैं।’
अमर सिंह ने सवाल किया, ‘जया जी क्‍या आपके आंसू सूख गए हैं। निर्भया के लिए आप रोईं और चिल्‍लाई थीं, अब मंदसौर के लिए भी चिल्‍लाइए। अपने बिरादरी के लोगों से कहिए। अपनी बहू से कहिए जो राष्‍ट्रीय सिलेब्रेटी हैं। अपने पति को कहिए जो बिग बी हैं। इससे एक माहौल बनेगा। सिलेक्टिव होकर केवल प्रचार के लिए रोना ठीक नहीं है। आंसू अगर बह रहे हैं तो निर्भया के लिए भी बहें और मंदसौर की मासूम बच्‍ची के लिए भी बहें। आंसू सूखे नहीं।’
बता दें, मध्य प्रदेश के मंदसौर में एक मासूम बच्‍ची के साथ हुई हैवानियत की घटना का पूरे देश में विरोध-प्रदर्शन हो रहा है। इस संबंध में मुख्य आरोपी इरफान और आसिफ को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। मंदसौर पुलिस ने अपने चौंका देने वाले खुलासे में बताया था कि आरोपियों ने बच्‍ची के बर्बरता की पूरी प्‍लानिंग की थी। यही नहीं, उन्‍होंने गैंगरेप के बाद काफी देर उन वस्‍तुओं की तलाश की, जिससे उसके प्राइवेट पार्ट्स को नुकसान पहुंचाया जा सके। गला काटने के बाद वे लोग कथित रूप से शराब पी रहे थे, जबकि बच्‍ची लहूलुहान हालत में थी।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »