फिर से क्‍यों चर्चा में है तानाशाह किम की बहन यो जोंग ?

उत्‍तर कोरियाई तानाशाह किम जोंग उन की बेहद ताकतवर बहन किम यो जोंग एक फिर से चर्चा में है। किम यो जोंग की हनक का आलम यह है कि दक्षिण कोरिया को उनकी लंबे समय चली आ रही एक मांग को मानने के लिए मजबूर होना पड़ा है।
दरअसल, उत्‍तर कोरिया के विद्रोही दक्षिण कोरिया की सीमा पर गुब्‍बारे उड़ाते रहते हैं। इन गुब्‍बारों पर किम जोंग उन की तानाशाही के विरोध वाले मेसेज लिखे होते हैं।
किम ने विद्रोहियों को ‘मानव मल’, ‘दोगला कुत्‍ता’ बताया
किम यो जोंग ने इन गुब्‍बारों को लॉन्‍च करने वाले उत्‍तर कोरियाई विद्रोहियों को ‘मानव मल’ और अपने देश को धोखा देने वाला ‘दोगला कुत्‍ता’ करार दिया था।
तानाशाह की बहन ने दक्षिण कोरिया को धमकी दी कि अगर उसने इस विरोध प्रदर्शन को नहीं रोका तो वह दोनों देशों के बीच हुआ सैन्‍य समझौता रद्द कर देंगी। किम यो जोंग की मांग के आगे झुकते हुए दक्षिण कोरिया ने ऐलान किया है कि वह इस तरह के विरोध प्रदर्शनों को रोकने के लिए नया कानून बनाएगा।
दक्षिण कोरिया ने पहले खारिज कर दी थी मांग
दक्षिण कोरिया को उम्‍मीद इस कानून के बाद उसके उत्‍तर कोरिया से सामान्‍य संबंध बने रहेंगे। इससे पहले दक्षिण कोरिया कई बार पुलिस को भेजकर इस तरह के गुब्‍बारों को उड़ाने से रोकता रहा है। हालांकि दक्षिण कोरिया, उत्‍तर कोरिया के बैन लगाने की मांग को पहले खारिज करता रहा है। दक्षिण कोरिया से उत्‍तर कोरिया को गुब्‍बारे भेजने की प्रक्रिया प‍िछले कई वर्षों से चल रही है। उत्‍तर कोरिया इसे अपनी सरकार पर हमला मानता रहा है।
दक्षिण कोरिया के साथ सैन्‍य समझौता तोड़ने की धमकी
हाल के दिनों में विद्रोहियों ने उत्‍तर कोरियाई तानाशाह के परमाणु बम बनाने की महत्‍वाकांक्षा और मानवाधिकारों को लेकर आलोचना वाले गुब्‍बारे उड़ाए थे। इसके बाद किम जोंग उन की बहन ने सैन्‍य समझौते को तोड़ने की धमकी दे दी। किम यो जोंग ने कहा कि अगर दक्षिण कोरिया ने कार्यवाही नहीं की तो वह संपर्क कार्यालय और एक फैक्‍ट्री स्‍थल को बंद कर देंगी जो दोनों देशों के बीच संबंधों के बेहतर होने का प्रतीक माना जाता है।
तानाशाह किम जोंग उन से ज्‍यादा क्रूर है बहन
एक्सपर्ट्स इस बात की चेतावनी देते हैं कि किम यो जोंग बेहद क्रूर है। माना जाता है कि यो जोंग इस बात का फैसला करती थी कि जोंग उन तक कौन से मुद्दे ले जाए जाने के लिए अहम हैं। कहा जाता है कि यो जोंग पार्टी के लोगों को उन्हें सम्मान और डर से पेश आने के लिए कहती थी। नॉर्थ कोरिया की मीडिया हमेशा उनका जिक्र करती है क्योंकि वाइस डायरेक्टर का पद भले ही न मिला हो, हैसियत वही है। ऑर्गनाइजेशन एंड गाइडेंस डिपार्टमेंट में किम यो जांग के बढ़ते कद ने उन्हें वर्कर्स पार्टी के ब्यूरोक्रैट्स की नजरों में नॉर्थ कोरिया का नंबर 2 बना दिया।
दक्षिण कोरिया से डील करती है किम यो जोंग
उत्‍तर कोरिया के लाइव फायर मिलिट्री अभ्‍यास का दक्षिण कोरिया ने विरोध किया तो किम यो जोंग ने कहा था कि ‘डरे हुए कुत्‍ते भौंक रहे हैं।’ इससे पहले मार्च महीने में किम यो जोंग ने सार्वजनिक रूप से अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप की पत्र भेजने के लिए प्रशंसा की थी। उन्‍होंने आशा जताई थी कि उत्‍तर कोरिया और अमेरिका के बीच संबंध बेहतर होंगे। उत्‍तर कोरियाई मामलों के जानकार लिओनिड पेट्रोव कहते हैं, ‘किम यो जोंग की अपने भाई तक सीधी पहुंच है। यही नहीं, उत्‍तर कोरियाई शासक पर उनकी बहन का गहरा प्रभाव है। किम यो जोंग अपने भाई की सबसे वफादार हैं और विदेशियों और दक्षिण कोरिया से डील करती है। किम यो जोंग अपने भाई की सकारात्‍मक छवि दुनिया में बनाने का काम करती है।’
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *