मुगलों को ‘असली राष्ट्र निर्माता’ बताया तो कबीर खान पर फूटा लोगों का गुस्‍सा

मुंबई। ‘बजरंगी भाईजान’, ‘काबुल एक्सप्रेस’ और ‘एक था टाइगर’ जैसी फिल्मों के डायरेक्टर कबीर खान ने फिल्मों में मुगलों को गलत तरीके से दिखाए जाने पर नाराजगी जाहिर की और उन्हें देश का ‘असली राष्ट्र निर्माता’ बता दिया। कबीर खान के इस स्टेटमेंट के बाद से ट्विटर पर जंग छिड़ गई है।
सोशल मीडिया पर लोग कबीर खान को बुरी तरह ट्रोल कर रहे हैं और जमकर गुस्सा निकाल रहे हैं। कुछ यूजर्स का मानना है कि अगर मंदिर तोड़ना और यूनिवर्सिटीज को जलाना राष्ट्र का निर्माण है तो सच में मुगल ‘राष्ट्र निर्माता’ थे।
दरअसल, ‘बॉलीवुड हंगामा’ को दिए इंटरव्यू में कबीर खान ने फिल्मों में मुगलों को ‘हत्यारा’ दिखाए जाने और उन्हें बदनाम करने पर भी गुस्सा जाहिर किया। उन्होंने कहा, ‘मैं समझ सकता हूं कि जब एक फिल्ममेकर रिसर्च करता है और अपने एक पॉइंट को साबित करना चाहता है, तो उसमें अलग-अलग नजरिया हो सकता है। अगर आप मुगलों को गलत दिखाना चाहते हैं तो फिर पहले रिसर्च करें। किसी रिसर्च के आधार पर ऐसा करें और हमें भी समझाएं कि आखिर मुगल गलत क्यों हैं? आपको ऐसा क्यों लगता है कि मुगल विलन थे? अगर आप कुछ रिसर्च करेंगे और इतिहास पढ़ेंगे तो आपके लिए समझना बहुत मुश्किल होगा कि मुगल गलत क्यों थे? मुझे ऐसा लगता है कि मुगल हमारे राष्ट्र के मुख्य निर्माताओं में से एक थे। इसलिए उन्हें गलत या हत्यारे के तौर पर दिखाना और वो भी बिना किसी सबूत के एकदम गलत है।’
कबीर खान ने कहा, ‘मुझे यह बात बहुत परेशान करती है। दुर्भाग्‍य से यह सिर्फ एक लोकप्रिय धारणा के कारण किया जा रहा है।’
मैं ऐसी फिल्‍मों का सम्‍मान नहीं कर सकता
कबीर खान ने फिल्‍मों में मुगलों के चित्रण पर नारागजी जाहिर करते हुए आगे कहा, ‘बस जो कहा जा रहा है, जो लोकप्रिय है, उसी विचार के साथ आगे मत बढ़‍िए। आज के वक्‍त में यह सबसे आसान काम है, है ना?
भारत के इतिहास में अलग-अलग मौकों पर मुगलों और दूसरे अनेक मुस्लिम शासकों को गलत तरीके से दिखाना, उन्हें पूर्वाग्रहों से भरे रूढ़ियों में फिट करने की कोशिश करना दुखद है। मैं ऐसी फिल्मों का सम्मान नहीं कर सकता। हालांकि, दुर्भाग्य से यह मेरी अपनी सोच है। बेशक, मैं बड़े दर्शक वर्ग के लिए नहीं बोल सकता। लेकिन मैं निश्चित रूप से उनकी इस तरह की इमेज दिखाने से परेशान हो जाता हूं।’
‘तान्‍हाजी’ के बाद सैफ ने भी कही थी ऐसी ही बात
बॉलीवुड में बनी हाल की फिल्‍मों में ‘पद्मावत’ से लेकर ‘तान्‍हाजी’ और ‘पानीपत’ में मुगलों को दिखाया गया। यह भी सच है कि फिल्‍म की रिलीज के वक्‍त भी इन पर ऐत‍िहास‍िक तथ्‍यों से छेड़छाड़ का आरोप लगा था। ‘तान्‍हाजी’ की रिलीज के बाद तो फिल्‍म में व‍िलन बने सैफ अली खान ने भी यह कहा था कि फिल्‍म की कहानी में जो दिखाया गया है, उसमें सारे तथ्‍य सही नहीं हैं।
कबीर खान आगे रणवीर सिंह के साथ ’83’ फिल्‍म ला रहे हैं। यह फिल्‍म क्रिकेट वर्ल्‍ड कप में भारत की ऐतिहासिक जीत पर आधारित है। रणवीर फिल्‍म में कपिल देव की भूमिका में हैं।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *