दिन में कब खाऐं दूध व फल जिससे ये उत्‍तम फल दें

किस फल को दिन के किस समय खाना उत्तम होता है, यह हमें अवश्‍य जान लेना चाहिए वरना जो फल सेहत के लिए खाए जाते हैं, वह अपना उल्‍टा असर भी दिखा सकते हैं। हम में से ज्यादातर लोग नियमित रूप से फलों का सेवन करते हैं, पर इसके बाद भी बीमार पड़ जाते हैं। हो सकता है कि इसके पीछे गलत समय में गलत चीजों का सेवन करना हो। आयुर्वेद में बताया गया है कि किसी भी चीज को गलत समय पर सेवन किया जाए तो फायदे की बजाए नुकसानदेय साबित हो सकती है।

सेब:
सेब का सेवन सुबह के नाश्ते में करना उत्तम माना गया है। इसमें पेक्टिन नाम का तत्व मौजूद होता है जो बीपी को लो करता है और कोलेस्ट्राल को
घटाता है। सेब का सेवन रात में के भोजन में नहीं करना चाहिए क्योंकि रात में पेक्टिन के पाचन में मुश्किल होती है और फिर इससे पेट में एसिडिटी की
समस्या बढ़ती है।

केला:
केला का सेवन दोपहर यानी लंच में करना चाहिए। केला हमारे शरीर के प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में मददगार साबित होता है। केले का सेवन रात में
बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए क्यों कि इससे अपच की समस्या हो सकती है।

आलू:
आलू और आलू से बनी चीजों का सेवन सुबह के नाश्ते में ज्यादा बढि़या माना गया है। यह भी कोलेस्ट्रॉल को घटाता है और हमारे शरीर को जरूरी ऊर्जा देता है। इसमें हाईकैलोरी होने की वजह से रात में लेना कम ठीक माना गया है। अगर आप रात में आलू खाते हैं तो इससे वजन बढ़ने की समस्या हो सकती है।

दूध:
दूध के बारे में डॉक्टर भी बताते हैं कि इसका सेवन रात में करना बेहतर होता है। रात को गुनगुना दूध लेने से नींच अच्छी आती है और शरीर में एनर्जी रिस्टोर होती है। सुबह यदि ज्यादा मेहनत या व्यायाम करते हैं तो ही दूध लें अन्यथा इसे पचाने में मुश्किल हो सकती है।
सूखे मेवे व फली:
इनका सेवन दोपहर में करना अच्छा माना गया गया है क्योंकि यह ब्लड प्रेसर को कम करने में सहायक होते हैं। रात में इनका सेवन करने से मोटापे की समस्या हो सकती है।

संतरा:
संतरे का सेवन शाम को करीब चार बजे के नाश्ते में करना चाहिए। कहा जा रहा है कि सुबह खाली पेट नाश्ते में संतरा लेने से पेट की समस्याएं हो सकती हैं।

टमाटर:
टमाटर को सेवन भी सुबह अच्छा माना गया है कि रात में इसके सेवन से पेट फूलने की समस्या हो सकती है।
-एजेंसी