शुगर के रोगियों को कौन सी गलतियां दोहराने से बचना चाहिए

डायबिटीज के मरीजों के ब्लड में शुगर की मात्रा बढ़ जाती है, जिसे ब्लड शुगर बढ़ना कहा जाता है। अगर ब्लड शुगर और इंसुलिन के लेवल में लगातार उतार-चढ़ाव बना रहता है तो इसका सेहत पर बुरा असर पड़ता है। यहां जानें शुगर के रोगियों को कौन-सी गलतियां दोहराने से बचना चाहिए…
पहले इतना जान लें
शुगर की बीमारी किसी भी इंसान को आमतौर पर दो तरीके से होती है। एक तो वंशानुगत और दूसरे गलत लाइफस्टाइल के कारण। वजह चाहे जो भी आप इस बीमारी को जानलेवा होने से रोक सकते हैं, हेल्दी डायट और सही दिनचर्या के साथ।
पूरी नींद ना लेने की आदत
डायबिटीज के मरीजों को इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि वे अपने सोने और जागने का रुटीन बना लें और उसे सख्ती से फॉलो करें।
यकीन मानिए ऐसा करने से आपकी बायॉलजिकल क्लॉक सेट होती है और ब्लड शुगर को मेंटेन रखने में मदद करती है। सुबह जितना हो सके जल्दी जागें और एक्सर्साइज या वॉक जरूर करें।
ब्रेकफास्ट ना करने की आदत
अगर अब भी आप सुबह खाली पेट रहते हैं या बिस्तर छोड़ने के बाद कई घंटों तक कुछ नहीं खाते तो आप अपनी सेहत के साथ बहुत बड़ा खिलवाड़ कर रहे हैं। डायबिटीज के रोगियों का शरीर लंबी भूख या ओवर इटिंग दोनों को लेकर काफी सेंसेटिव हो जाता है इसलिए अपने खाने का टाइम निर्धारित करें।
शारीरिक श्रम ना करना
डायबिटीज के मरीजों को इस बात का ध्यान रखना चाहिए वे शारीरिक गतिविधियों में अधिक से अधिक भाग लें। अगर ऐसा संभव ना हो तो रनिंग, तेज स्पीड में वॉकिंग या एक्सर्साइज जरूर करें। आलस आपको छोड़ना ही होगा। तभी स्वास्थ्य बना रह सकता है।
फास्ट फूड पर लार टपकना
फास्ट फूड बहुत टेस्टी होता है, इससे इंकार नहीं किया जा सकता लेकिन सेहत बनाए रखने के लिए कुछ तो कुर्बानी देनी होगी ना! हम समझ सकते हैं फास्ट फूड देखकर आपके मुंह में पानी आ जाता है लेकिन यह फूड हाई सॉल्ट और हाई शुगर से भरपूर होता है इसलिए इससे दूरी ही बेहतर है।
डायट फॉलो ना करना
अगर डायबिटीज के रोगी अपनी मीठा खाने की आदत पर कंट्रोल नहीं करते हैं तो उनके लिए स्थिति को संभालना बढ़ते वक्त के साथ मुश्किल होता जाता है इसलिए अपने डॉक्टर की बताई गई डायट को जरूर फॉलो करें ताकि लंबे समय तक हेल्दी बने रहें।
जांच को लेकर लापरवाही
हम अपनी रुटीन लाइफ में इतना व्यस्त रहते हैं कि हेल्थ को सबसे पहले अवॉइड करते हैं और भूल जाते हैं कि हेल्थ नहीं तो कुछ भी नहीं।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »