GL बजाज में सूचना प्रौद्योगिकी पर हुई वेबिनार

मथुरा। जी.एल. बजाज ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशंस में शनिवार को प्रबंधन के क्षेत्र में सूचना प्रौद्योगिकी की उपयोगिता पर आनलाइन वेबिनार का आयोजन किया गया। वेबिनार के मुख्य वक्ता नारायणन सुब्रहमण्यम ने एमबीए प्रथम और तृतीय सेमेस्टर के छात्र-छात्राओं को बताया कि आज के समय में सूचना प्रौद्योगिकी का व्यावसायिक तथा सामाजिक आवश्यकता की दृष्टि से विशेष महत्व है। सूचना प्रौद्योगिकी की सहायता से हम एक स्थान से दूसरे स्थान पर कम से कम समय में सूचनाओं का आदान-प्रदान कर सकते हैं।

श्री सुब्रहमण्यम ने अपने व्याख्यान में छात्र-छात्राओं को डिजिटल और सोशल मार्केटिंग में नवीनतम आईटी उपकरणों, ईआरपी सॉफ्टवेयर, क्लाउड कम्प्यूटिंग आदि के बारे में भी विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने कहा कि प्रबंधन के विभिन्न कार्यों जैसे- वित्त, विपणन, मानव संसाधन और संचालन में सूचना प्रौद्योगिकी की महती भूमिका होती है। उन्होंने एमबीए के छात्र-छात्राओं को आईटी क्षेत्र में भविष्य बनाने के तौर-तरीके भी बताए। उन्होंने कहा कि सूचना एवं सम्प्रेषण तकनीक से हम घर बैठे न केवल दूसरे के विचारों को जान सकते हैं बल्कि अपने विचारों का आदान-प्रदान भी कर सकते हैं। श्री सुब्रहमण्यम ने हर बिन्दु पर यथार्थवादी तरीके से अपने विचार रखे।

संस्थान की निदेशक प्रोफेसर नीता अवस्थी ने कहा कि 21वीं सदी में हमें सूचना-प्रौद्योगिकी एक सौगात के रूप में मिली है। सूचना एवं सम्प्रेषण तकनीक द्वारा जब व्यक्ति किसी के विचार को सुनता है तो समान रूप से उसे दूसरे व्यक्ति को अपने विचारों से अवगत कराता है। हम कह सकते हैं कि हर क्षेत्र की तरह प्रबंधन के क्षेत्र में भी सूचना एवं सम्प्रेषण तकनीक का महत्वपूर्ण योगदान है।

प्रो. अवस्थी ने कहा कि शैक्षिक प्रबंधन में सहयोगात्मक भावना सर्वोपरि होती है। प्रत्येक व्यवस्था के कुशल संचालन में जानकार लोगों का सहयोग आवश्यक होता है। इसके लिए हमें सूचना एवं सम्प्रेषण तकनीकी के माध्यमों की आवश्यकता होती है जिनके द्वारा विभिन्न विद्वानों के अनुभवों को हम सहजता से जानकर उसी अनुरूप कार्य को सम्पादित करते हैं। कार्यक्रम की समन्वयक प्रो. गजल सिंह ने मुख्य वक्ता का धन्यवाद ज्ञापन करने के बाद वेबिनार के समापन की घोषणा की। छात्र-छात्राओं ने वेबिनार को बहुत उपयोगी बताया।
– Legend News

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *