टी20 वर्ल्ड कप की तैयारियों के लिए IPL है न: विराट कोहली

हैमिल्टन। भारतीय कप्तान विराट कोहली ने आज कहा कि उनकी टीम न्यू जीलैंड के खिलाफ एकदिवसीय सीरीज से टी20 वर्ल्ड कप की तैयारियों को मजबूत करने की योजना नहीं बना रही क्योंकि आगामी IPL उसके लिए ‘सही मंच’ है।
मुख्य कोच रवि शास्त्री ने हालांकि पिछले महीने कहा था कि न्यू जीलैंड और साउथ अफ्रीका (मार्च में) के खिलाफ वनडे सीरीज का इस्तेमाल भारतीय टीम अक्टूबर-नवंबर में ऑस्ट्रेलिया में आयोजित होने वाले टी20 वर्ल्ड कप के लिए करेगी।
कैप्टन कोहली ने बुधवार को यहां होने वाले पहले वनडे की पूर्व संध्या पर कहा, ‘हम पहले ही पांच टी20 मैच खेल चुके हैं। ऐसा नहीं है कि हमारे पास टी20 के पर्याप्त मैच नहीं है। हमारे पास IPL भी है और यह डेढ़ महीने तक चलेगा। तो हम शायद उसका उपयोग करेंगे।’
भारतीय कप्तान ने कहा, ‘टी20 अलग तरह का फॉर्मेट है। IPL शायद सबसे अधिक प्रतिस्पर्धी टूर्नामेंट है। खिलाड़ी टूर्नामेंट में उस मानसिकता (टी20 वर्ल्ड कप की तैयारी) के साथ उतरेंगे। अभी काफी समय है और हम अभी उस मानसिकता में आकर 50 ओवर के फॉर्मेट में अलग तरीके से नहीं खेलना चाहते हैं।’
कप्तान को लगता है कि हर फॉर्मेट को एक जैसा सम्मान देना जरूरी है। उन्होंने कहा, ‘आपको हर फॉर्मेट का सम्मान करना होगा, आपको 50 ओवर के खेल की उसकी गति के अनुसार खेलना होगा। जैसा कि मैंने संयोजन के बारे में बात की, यह खिलाड़ियों को उनकी भूमिकाओं में ढलने और उसे दोहराने के बारे में है ताकि उन्हें पता चले कि उन्हें किस फॉर्मेट में कैसे खेलना है।’
न्यू जीलैंड को टी20 सीरीज में 5-0 से हराने के बाद भारतीय टीम वनडे सीरीज में बढ़े हुए आत्मविश्वास के साथ जाएगी। कोहली की टीम ने न्यू जीलैंड के पिछले दौरे पर एकदिवसीय सीरीज में 4-1 से जीत दर्ज की थी।
कोहली ने कहा, ‘पिछली बार जब हम यहां खेले थे, तो हम पहले तीन मैचों में हावी थे। चौथे मैच में हार का सामना करना पड़ा और पांचवें में हमने फिर से वापसी की। हमने महसूस किया कि वास्तव में वनडे में हमारे पास योजनाओं को पूरा करने के लिए अधिक समय है। टी20 फॉर्मेट न्यू जीलैंड के लिए उपयुक्त था क्योंकि वे विस्फोटक क्रिकेट खेल सकते थे। एकदिवसीय क्रिकेट में हमने कुछ बहुत ही कठिन सीरीज खेली हैं।’
कप्तान ने कहा कि टी20 में बुरी तरह से हारने के बाद न्यू जीलैंड की टीम वापसी को बेकरार होगी। उन्होंने कहा, ‘यह कुछ ऐसा है जिससे हमें सावधान रहने की आवश्यकता है। हम अपनी योजनाओं पर विश्वास करने के साथ उन दबाव के क्षणों को अपने पक्ष में बदलने की कोशिश करते हैं। न्यू जीलैंड की टीम भी कभी हार नहीं मानती और वापसी के तरीके खोजती रहती है।’
भारतीय टीम की फील्डिंग का स्तर पिछले कुछ समय में गिरा है लेकिन टीम ने बीच-बीच में गजब का प्रदर्शन किया है। कोहली ने कहा कि टीम प्रबंधन ने इस पर ध्यान दिया है तथा बल्लेबाजी और गेंदबाजी के साथ फील्डिंग में सुधार की कोशिश की जा रही।
उन्होंने कहा, ‘अगर आप टीम की औसत उम्र को देखेंगे तो यह लगभग 27 साल है। ऐसे में हम जैसी फील्डिंग कर रहे हैं उससे काफी बेहतर करना चाहिए। मुझे लगता है कि कुल मिलाकर क्षेत्ररक्षण में दोनों टीमों का प्रदर्शन अच्छा नहीं था। टी20 क्रिकेट में ऐसा हो सकता है क्योंकि खेल काफी तेजी से आगे बढ़ता है।’
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *