अयोध्‍या पहुंचे वसीम रिजवी ने कहा, बिना मूंछ के रावण हैं ओवैसी

अयोध्या में राम मंदिर की पैरवी कर रहे शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी इन दिनों खासे उत्साहित नजर आ रहे हैं। भगवान राम को सपने में देखने का दावा करने के बाद वह सोमवार को अयोध्या पहुंचे हैं। यहां उन्होंने राम मंदिर के हिंदू पक्षकारों के साथ मुलाकात की। उन्होंने कहा कि यहां पर मुस्लिम पक्षकारों से बातचीत का कोई मतलब नहीं है। साथ ही मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड और एआईएमआईएम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी पर तीखा हमला किया। उन्होंने ओवैसी को बिना मूंछ का रावण तक कह डाला।
राम मंदिर के लिए पहल करने वाले वसीम रिजवी ने सोमवार को अयोध्या पहुंचकर संत-महंत और हिंदू पक्षकारों से बात की। उन्होंने कहा कि रामलला दर्शन मार्ग पर रामभक्तों की दशा देखकर दुख होता है। उन्होंने इस दौरान ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड और असदुद्दीन ओवैसी को रावण के समान बताया। उन्होंने कहा, ‘ओवैसी बिना मूंछ के रावण हैं जो मंदिर का निर्माण नहीं होने दे रहे हैं।’
उन्होंने यह भी कहा कि राम भक्तों का जज्बात देखकर खुशी हो रही है। साथ ही यह भी कहा, ‘दुख हुआ कि बाबर के पैरोकार इनके साथ ज्यादती कर रहे हैं।’ उन्होंने आगे कहा, ‘धर्म को फॉलो करने वाले पहले इंसान बने। इंसानियत के बाद धर्म को अख्तियार करे।’ उन्होंने ऑल इंडिया पर्सनल लॉ बोर्ड कट्टरपंथी और असदुद्दीन ओवैसी को कट्टरपंथी बताया।
रिजवी ने यह भी कहा, ‘राम मंदिर निर्माण मेरा मिशन है। भगवान राम मेरे सपने में आए मेरे लिए बड़ी बात है। वह पोशाक और धनुष धारी के रूप में नजर आ रहे थे।’ मालूम हो कि रिजवी ने इससे पहले भी बयान दिया था कि उन्होंने भगवान राम को सपने में रोते हुए देखा था। भगवान राम उनके ख्वाब में आए थे। ऐसा उन्होंने कहा था। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट 29 अक्टूबर से मामले पर नियमित सुनवाई करेगा।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »