अयोध्‍या पहुंचे Waseem Rizvi, राम मंदिर निर्माण के लिए दिया दान

अयोध्या। शिया वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष Waseem Rizvi ने कहा कि राम मंदिर का निर्माण अयोध्या में ही होना चाहिए। अयोध्या भगवान राम की जन्मभूमि है। यहां मस्जिद की कोई जरूरत नहीं। वसीम रिजवी रविवार को अयोध्या पहुंचे थे। राम मंदिर निर्माण के लिए दस हजार रुपए दान देने के साथ उन्होंने महंत नृत्यगोपाल दास से आशीर्वाद भी लिया।

शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिजवी आज अयोध्या में राम जन्मभूमि कार्यशाला पहुंचे, जहां मंदिर के लिए पत्थरों को तराशने का काम चल रहा है। वसीम रिजवी ने यहां पत्थर तराशने के लिए 10 हजार रुपये का चंदा भी दिया। साथ ही कहा कि जरूरत हो तो मंदिर निर्माण के लिए अध्यादेश लाया जाए।

Waseem Rizvi ने राम मंदिर आंदोलन के पुरोधा नृत्य गोपाल दास के आश्रम जाकर उनसे मुलाकात की और उन्हें जन्मदिन की बधाइयां दी. इसके बाद रिजवी सीधे राम जन्मभूमि कार्यशाला पहुंचे जहां मंदिर के लिए सालों से पत्थर तराशे जा रहे हैं।

यहां वसीम रिजवी ने कहा कि जो कट्टरपंथी जहनियत के मुसलमान थे, उन्होंने ही यह राम मंदिर तोड़ा था और यह वही लोग हैं जिन्होंने सऊदी अरब में भी मोहम्मद साहब की बेटी के मकबरे जन्नत-उल बकी को तोड़ा है। रिजवी ने कहा कि जो लोग राम मंदिर का विरोध कर रहे हैं, वो गद्दार हैं।

वसीम रिजवी ने कहा कि दुनिया जानती है भगवान राम की जन्मभूमि कहां है। अगर भगवान राम की जन्मभूमि पर भी उनका मंदिर नहीं बनेगा तो कहां बनेगा। उन्होंने कहा कि बहुत पहले ये मंदिर बन जाना चाहिए था।

कोई मुझे इस्लाम से खारिज करता है तो मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता

वसीम रिजवी ने अपने आलोचकों को भी जवाब दिया। उन्होंने कहा कि कट्टरपंथी मुसलमान उनके खिलाफ हैं और अगर कोई मुझे इस्लाम से खारिज करना चाहता है तो खारिज करके दिखाए। रिजवी ने कहा, ‘मैं किसी कट्टरपंथी मुसलमान की वजह से इस्लाम में नहीं हूं बल्कि जन्म से और सोच से हूं। इसलिए अगर कोई मुझे इस्लाम से खारिज करता है तो मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता।’

वसीम रिजवी के बाद सोमवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी अयोध्या पहुंचेंगे। योगी यहां कई कार्यक्रमों में शिरकत करेंगे, जहां साधु संत उनसे मंदिर जल्द निर्माण का मुद्दा उठा सकते हैं। हालांकि, वो इस मसले पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले को इंतजार करने की बात कह चुके हैं।

शिया वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिजवी को हाल ही में राज्य सरकार द्वारा ‘वाई प्लस’ श्रेणी की सुरक्षा प्रदान की गई है। राम मंदिर मुद्दे पर बोलते रिजवी ने कहा कि राम मंदिर का निर्माण किसी भी तरीके से अयोध्या में होना चाहिए। मंदिर निर्माण के खिलाफ कोर्ट में खड़े लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि बेहतर है कोर्ट का फैसला जीतने के बजाए करोड़ों राम भक्तों का दिल जीता जाए।

वसीम रिजवी ने अयोध्या में राम मंदिर और लखनऊ में भव्य मस्जिद बनाने का प्रस्ताव रखा। मंदिर निर्माण का विरोध कर रहे लोगों को सख्त लहजे में उन्होंने दाऊद की तरह पाकिस्तान जाने की सलाह दी।

दस हजार रुपए दान करने के साथ Waseem Rizvi ने कहा, मेरी ओर से यह छोटी सी भेंट मोहब्बत का बहुत बड़ा पैगाम है, मंदिर का निर्माण शुरू होते ही देश का सेकुलर मुसलमान बढ़-चढ़कर दान करेगा।
– Legend News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »