बीजेपी का Vision 2022: विपक्ष के पास न नेता है, न नीति है और न ही रणनीति

नई दिल्ली। लोकसभा और विधानसभा चुनावों की तैयारियों के बीच बीजेपी ने राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में Vision 2022 पेश किया है। इसके साथ ही विपक्ष पर हमला बोलते हुए उसे हताश करार दिया है। केंद्रीय मंत्री ने Vision 2022 की जानकारी देते हुए कहा कि हम एक बार फिर से वापसी करने जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि विपक्ष के पास न नेता है, न नीति है और न ही रणनीति है इसलिए विपक्ष हताशा में नकारात्मकता की राजनीति कर रहा है।
गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने मीटिंग के दूसरे दिन राजनीतिक प्रस्ताव पेश किया, जिसे कार्यसमिति ने सर्वसम्मति से पास कर दिया। इस प्रस्ताव में 2022 तक ‘न्यू इंडिया’ के विजन को साकार करने की बात कही गई है। राजनीतिक प्रस्ताव में पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व की सराहना करते हुए न्यू इंडिया की बात की गई है। पार्टी के मुताबिक इस न्यू इंडिया मिशन के साकार होने पर देश में न तो कोई गरीब होगा और न ही कोई बेघर होगा।
केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने प्रस्ताव की जानकारी देते हुए कहा, ‘राजनीतिक प्रस्ताव में बताया गया है कि किस प्रकार आज देश में एक इनोवेशन का कल्चर शुरू हुआ है। खुद की तरक्की करते हुए लोग देश की तरक्की में सहभागी हो रहें है।’
पीएम मोदी को बताया दुनिया का सबसे लोकप्रिय नेता
जावड़ेकर ने पीएम मोदी को दुनिया का सबसे लोकप्रिय नेता करार देते हुए कहा कि साढ़े चार के कार्यकाल के बाद भी उनकी लोकप्रियता 70 फीसदी के स्तर पर है। ऐसा दुनिया में पहले कभी भी नहीं हुआ था। ऐसा दुनिया में किसी और देश में आज तक नहीं हुआ है।
राज्यों ने सौंपी पार्टी के कामों की रिपोर्ट
राजनीतिक प्रस्ताव पेश किए जाने से पहले राज्य ईकाइयों ने अपने-अपने प्रदेश में पार्टी के अभियानों और कामों की रिपोर्ट पेश की। इस दौरान पश्चिम बंगाल में पीएम मोदी की रैली और वहां हुई 30 कार्यकर्ताओं की हत्या पर भी चर्चा हुई।
विजन. पैशन और इमैजिनेशन से बनेगा ‘न्यू इंडिया’
राजनीतिक प्रस्ताव में कहा गया कि न्यू इंडिया की दिशा में भारत ने बहुत तरक्की है और समाज के लोगों ने भी साथ दिया है। यह नया भारत भ्रष्टाचार, संप्रदायवाद और गरीबी से मुक्त होगा। यह नया भारत 2022 तक बनेगा। सरकार की जिस तरह की योजनाएं हैं और पीएम मोदी का कृतित्व है। उससे साकार होगा। विजन. पैशन और इमैजिनेशन से यह सफल होगा।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »