विश्वम्भर नाथ चतुर्वेदी ‘शास्त्री’ स्मृति समारोह 22 नवंबर को

विश्वम्भर नाथ चतुर्वेदी ‘शास्त्री’ स्मृति समारोह 22 नवंबर को में सम्मानित होंगे साहित्यकार,

रंगकर्मी व मानवाधिकार कार्यकर्ता बहेगी काव्य रस-धारा

मथुरा। स्वातन्त्रय चेतना के उन्नायक, सुप्रसिद्ध समाजसेवी, साहित्य व संस्कृति के साधक विश्वम्भर नाथ चतुर्वेदी ‘शास्त्री’ की स्मृति में इस बार उनके जन्मशती वर्ष में दिनांक 22 नवंबर को चैकी बागबहादुर स्थित होटल गंगा पैलेस में अपरान्ह 3 बजे से देश के विभिन्न हिस्सों से आ रहे प्रख्यात साहित्यकार, रंगकर्मी व मानवाधिकार कार्यकर्ताओं को सम्मानित किया जाएगा।

समारोह समिति के सचिव उपेन्द्र नाथ चतुर्वेदी ने बताया कि विगत सोलह वर्षों से अनवरत मनाए जाने वाले इस कार्यक्रम में अब तक लगभग 55 विभूतियों को सम्मानित किया जा चुका है जिनमें ख्यातिप्राप्त साहित्यकार, कवि, लेखक, कहानीकार, नाटककार, फिल्म निर्देशक, पटकथा लेखक, संस्कृत के विद्वान, शिक्षाविद्, इतिहासवेत्ता, अनुवादक, आलोचक एवं समाजसेवी शामिल रहे हैं।

इस बार समारोह का आकर्षण होंगे हिमाचल प्रदेश से प्रसिद्ध गाँधीवादी एवं मानवाधिकार कार्यकर्ता हिमांशु कुमार, मध्य प्रदेश से प्रख्यात गजलकार महेश कटारे ‘सुगम’, जयपुर से मशहूर साहित्यकार शैलेन्द्र चाौहान, कोटा से ब्लाॅगर व कानूनी सलाहकार दिनेश राय द्विवेदी और ‘इप्टा’ आगरा के सचिव रंगकर्मी विजय शर्मा।

इस कार्यक्रम में गीत-गजल संध्या, समसामयिक विषयों पर परिचर्चा के साथ-साथ जनवादी कवि महेन्द्र ने हके जनगीत संग्रह ‘‘हम सब नीग्रो हैं’’ व षताब्दी समारोह पुस्तिका ‘‘उठो सोने वालो’’ का विमोचन भी होगा।

समारोह की अध्यक्षता बिड़ला इन्स्टीट्यूट आॅफ मैनेजमेन्ट टैक्नोलाॅजी के निदेशक डाॅक्टर हरिवंश चतुर्वेदी और संचालन करेंगे शिवदत्त चतुर्वेदी व प्रसिद्ध जनवादी कवि महेन्द्र नेह।