वीरेंद्र सहवाग ने सनराइजर्स के बल्‍लेबाजों को जमकर लताड़ा

चेन्‍नै। पूर्व क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग ने सनराइजर्स के बल्‍लेबाजों को खूब लताड़ा। उन्‍होंने दावा किया कि SRH के कई बल्‍लेबाज अपने आंकड़े दुरुस्‍त करने में लगे थे, उन्‍हें टीम की जीत की कोई परवाह नहीं थी। सहवाग ने किसी का नाम नहीं लिया मगर उनका निशाना शायद मनीष पांडे थे जिन्‍होंने 44 गेंद खेलकर 61 रन बनाए और नाबाद रहे।
आईपीएल 2021 के तीसरे मैच में कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) ने सनराइजर्स हैदराबाद (SRH) को 10 रनों से हरा दिया। 188 रनों के लक्ष्‍य का पीछा करते हुए SRH की टीम मिडल ओवर्स में धीमी पड़ गई और फिर अचानक से जरूरी रन-रेट खासा ऊपर चला गया। आखिर में बल्‍लेबाज कुछ नहीं कर सके और मैच गंवा दिया।
सहवाग ने ट्विटर पर लिखा, “ऐसी टीमें जिनके पास स्‍टैट पैडिंग बल्‍लेबाज होंगे, वे लंबे समय तक बिना तेजी से गियर बदले बल्‍लेबाजी करेंगी और संघर्ष करेंगी। हिटर्स और फिनिशर्स के लिए बेहद कम गेंदें खेलने को छोड़ना इसे काफी मुश्किल बना देता है। पिछले साल भी यही हुआ था और ऐसी टीमें हमेशा संघर्ष करेंगी।”
आखिर 6 ओवर में एक बाउंड्री नहीं लगा पाए पांडे
SRH ने अपने दोनों ओपनर्स को सस्‍ते में गंवा दिया था। इसके बाद पांडे और जॉनी बेयरस्‍टो ने पारी संभाली। दोनों ने 92 रन जोड़े और टीम को चुनौती देने लायक स्थिति में पहुंचाया। फिर बेयरस्‍टो के आउट होते ही खेल पलट गया। विजय शंकर और मोहम्‍मद नबी का बल्‍ला नहीं चला। मनीष पांडे जो कि सेट थे, वे आखिरी 6 ओवर में एक भी बाउंड्री नहीं लगा पाए।
आखिरी दो ओवर में SRH को 38 रन चाहिए थे। अब्‍दुल समद ने 8 गेंदें खेलीं और 19 रन बनाए। जबकि मनीष पांडे ने आखिरी गेंद पर छक्‍का लगाया मगर तब तक काफी देर हो चुकी थी।
‘पांडे के पास मौका था मगर…’
क्रिकबज से बातचीत में सहवाग ने कहा कि मनीष पांडे के पास मौका था कि वह SRH को जीत तक ले जाते। उन्‍होंने कहा, “वह (मनीष) सेट थे और पूरा दबाव अपने ऊपर ले चुके थे। अगर उन्‍होंने बाउंड्रीज लगाने की पहल की होती तो SRH 10 रन से पीछे नहीं रहती और 1-2 गेंद पहले ही मैच खत्‍म हो जाता।”
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *