भारत और चीन के बीच तनाव से दिग्गज ऑटो कंपनी जनरल मोटर्स परेशान

नई दिल्‍ली। भारत और चीन के बीच चल रही तनातनी से अमेरिका की दिग्गज ऑटो कंपनी जनरल मोटर्स परेशान है। इसकी वजह यह है कि कंपनी में भारत में अपना प्लांट चीन की कंपनी ग्रेट वॉल मोटर को बेचने की योजना बनाई है लेकिन भारत और चीन के बीच चल रही तनातनी से यह सौदा परवान नहीं चढ़ पा रहा है जिससे जनरल मोटर्स पर खर्च का बोझ बढ़ रहा है।
दरअसल भारत में चीन के निवेश के लिए सरकार की मंजूरी जरूरी है। दोनों देशों के बीच जारी तनाव से हाल-फिलहाल यह मंजूरी मिलने की उम्मीद नहीं है। सूत्रों के मुताबिक जनरल मोटर्स ने अगले महीने से इस प्लांट का काम बंद करने की योजना बनाई है। एक सूत्र ने कहा कि अगले साल तक यह संयंत्र बंद हो जाएगा या ग्रेट वॉल इसको संभालेगी।
2017 से बिक्री बंद
जनरल मोटर्स को इस सौदे से 25 से 30 करोड़ डॉलर मिलने की उम्मीद थी। कंपनी की योजना थी कि इस राशि का इस्तेमाल भारत में कारोबार समेटने पर हुए खर्च की भरपाई हो जाएगी। इस तरह कंपनी के लिए न लाभ और न हानि की स्थिति होती। लेकिन सौदे में देरी की वजह से कंपनी का खर्च बढ़ जाएगा। कंपनी को सेवरेंस पे का भुगतान करना पड़ेगा।
सूत्रों के मुताबिक सेवरेंस पे की लागत बढ़ सकती है क्योंकि इस सौदे को लेकर स्थिति साफ नहीं है। कर्मचारी ज्यादा राहत की मांग कर रहे हैं क्योंकि कोरोनावायरस महामारी के कारण उनके लिए नई नौकरी मिलना मुश्किल होगा। जनरल मोटर्स ने 2017 में भारत में कारों की बिक्री बंद कर दी थी। इसकी वजह यह थी कि लाख कोशिशों के बावजूद कंपनी भारत में अपनी बिक्री नहीं बढ़ा पाई। हालांकि एक्सपोर्ट के लिए प्लांट में काम जारी रहा। महाराष्ट्र में स्थित कंपनी के प्लांट में करीब 4000 कर्मचारी काम करते हैं।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *