वसंत पंचमी: वसंती रंग में रंग गया श्रीकृष्ण-जन्मस्थान

मथुरा। आज वसंत पंचमी के अवसर पर श्रीकृष्ण-जन्मस्थान वसंती रंग में रंग गया, इस अवसर पर श्रद्धालुओं ने भगवान केशवदेव के वसंती आभा में दर्शन क‍िये।

Vasant Panchami: Shri Krishna - Birthplace changed to Vasanti color

वसंत उत्सव का आयोजन श्रीकृष्ण-जन्मस्थान पर‍िसर के सभी मन्दिरों में वसंती सज्जा और विशेष प्रकाश के साथ क‍िया गया। श्रीकेशव देव मन्दिर को जहां वसंती कमरे का रूप दिया गया वहीं अपने आराध्य की झलक को अपलक निहारते भक्त कमरे की आभा में डूबे नजर आए। कभी भक्त आराध्य को निहारते, तो कभी कमरे की आभा में डूबे नजर आए। जो कमरे में प्रवेश कर गया, वह टस से मस होने का नाम नहीं ले रहा था। मंद -मंद स्वरों में भजनों की धुन पर मन ही मन आनंदित भक्त वसंती कमरे की आभा में डूबे नजर आए।

ब्रजवासियों के लिए वसंत पंचमी उत्सव बेहद अहम होता है। क्योंकि इस दिन से ब्रज में रंगों का उत्सव शुरू हो जाता है, प्राचीन परंपराओं के मुताबिक मंदिरों में होली की तैयारी शुरू होने के साथ ही आमजनों में भी होली की उमंगें हिलोरें लेनी लगती है। इस बार 40 दिवसीय रंगोत्सव का आगाज वसंत पंचमी यानी आज 16 फरवरी (मंगलवार) से हो रहा है और श्री कृष्ण जन्मस्थान पर ये उत्सव पूरे उत्साह के साथ प्रारंभ हो चुका है।

वसंत पंचमी पर्व को सरस्वती देवी का अवतरण हुआ है, जिसके चलते मां सरस्वती पूजन किया जाता है और ब्रज में उमंग और उत्साह संचारित होने लगती है। अत: प्रातःकाल बालगोपाल शिक्षा सदन में सरस्वती माता के पूजन के उपरांत विद्यार्थियों को कलम, कापियां व प्रसाद वितरित किया गया। संस्थान द्वारा श्रद्धालुओं को पूरे दिन रेवड़ी व बेर का प्रसाद वितरण किया गया।

– Legend News

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *