खाना खाने के बाद भी कर सकते हैं वज्रासन

वज्रासन करने के लिए आप फ्लोर पर कोई भी दरी, चटाई या रुई का पतला गद्दा बिछा लीजिए। सबसे पहले इसके ऊपर 5 मिनट के लिए पालथी लगाकर या पद्मासन की मुद्रा में बैठ जाइए।
आप चाहें तो मूवी देखते हुए या न्यूज़ सुनते हुए भी वज्रासन आराम से कर सकते हैं। या फिर अपने परिवार के साथ गपशप करते हुए भी इस आसन में बैठ सकते हैं। यह सबसे आसान आसनों में से एक है लेकिन इसके फायदे अनेक हैं।
आमतौर पर माना जाता है कि योगासन खाना खाने के 4 घंटे बाद ही करने चाहिए लेकिन वज्रासन एक ऐसा योग है, जिसे आप खाना खाने के तुरंत बाद करेंगे तो आपको पाचन संबंधी समस्याओं में आराम मिलेगा। खासतौर पर जिन लोगों को खाना खाने के तुरंत बाद पेट में भारीपन महसूस होता है, खट्टी डकारें आती हैं या सुबह पेट ठीक से साफ नहीं होता है। उन लोगों को यह आसन जरूर करना चाहिए।
वज्रासन करने की विधि
-वज्रासन करने के लिए आप अपने दोनों पैरों को पीछे की तरफ मोड़ते हुए घुटनों के बल बैठ जाएं। कमर, पीठ और कंधे सीधे रखें। गर्दन को सीधा रखते हुए मुंह सामने की तरफ रखें।
-दोनों हाथों को घुटनों के ऊपर या ध्यान मुद्रा में गोद में रखें। आंखें बंद कर मन को शांत करने का प्रयास करें और गहरी सांसें लें।
वज्रासन के लाभ
वज्रासन करने से कोई एक फायदा नहीं होता बल्कि बहुत सारे फायदे होते हैं। यह पाचन तंत्र को दुरुस्त रखने से लेकर फिगर को मेंटेन रखने में भी मददगार है।
– वज्रासन करने से जठराग्नि बढ़ती है। जठराग्नि को आप उस ऊर्जा के रूप में समझ सकते हैं। यह भोजन पचाने और हमारे शरीर को एनर्जी देने का काम करती है।
-आज की जनरेशन ज्यादातर समय बैठे रहने या खड़े रहने वाले जॉब करती है। ऐसे में उन्हें पैरों में दर्द की शिकायत रहती है। वज्रासन इन युवाओं को बहुत अधिक लाभ देता है।
– वज्रासन करने से पेट संबंधी परेशानियां और गैस से संबंधित परेशानियां नहीं होती हैं। साथ ही हमारा ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होता है।
– इस आसन से हमारी बैक बोन यानी रीढ़ की हड्डी और कंधे सीधे होते हैं, जिससे बॉडी फर्म (Firm) होती है। हमारा शरीर सुडोल बनता है।
– वज्रासन करने से पैरों की मांसपेशियां मजबूत होती है। ऐड़ी और पिंडलियों के दर्द में बहुत राहत मिलती है।
– जो लोग फिटनेस फ्रीक हैं लेकिन चाहकर भी अपने आप को मेंटेन करने के लिए वक्त नहीं निकाल पाते हैं, उन्हें यह आसन करना चाहिए।
– सिटिंग जॉब में रहनेवाले वे लोग जो अपना फिगर मेंटेन रखने की चाहते रखते हैं लेकिन वक्त की कमी है, उन्हें यह आसान राहत देगा।
– पेट को पतला रखना चाहते हैं तो नियमित रूप से खाना खाने के बाद वज्रासन करें। आपका पेट बाहर नहीं निकलेगा।
वज्रासन के प्रकार
-वज्रासन आमतौर पर दो प्रकार का होता है। दूसरे प्रकार के वज्रासन को सुप्तवज्रासन कहते हैं। इसमें बैठने का तरीका थोड़ा-सा अलग होता है।
-यह खासतौर पर उन लोगों के लिए लाभदायक होता है, जिन्हें सिटिंग जॉब के कारण कंधे और गर्दन में दर्द रहता है।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *