Public Service Commission की तर्ज पर होंगी उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग की परीक्षायें

लखनऊ। Public Service Commission की तर्ज पर उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग एक परीक्षा के आयोजन पर गम्भीरता से विचार कर रहा है।

अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के अध्यक्ष सी बी पालीवाल ने यह जानकारी देते हुए बताया कि केन्द्र और राज्य के लोक सेवा आयोग की तरह परीक्षा आयोजित करने पर विचार किया जा रहा है।
परीक्षा परिणाम के अनुसार मेरिट पर ‘एलाईड’ के आधार पर विभिन्न विभागों में तैनाती दी जायेगी।

पालीवाल ने बताया कि इसके लिए विभागवार निकाले जाने वाले रिक्त पदों और उनके लिए आयोजित की जाने वाली कई परीक्षाओं से छुटकारा मिल सकेगा। एक या दो परीक्षा आयोजित कर मेरिट के आधार पर परिणाम घोषित किया जायेगा। उसी आधार पर विभागवार नियुक्ति दी जायेगी।

अधीनस्थ सेवा चयन आयोग समूह‘ग’और‘घ’कर्मचारियों के साथ ही गैरराजपत्रित अधिकारियों की भर्ती करता है। आयोग के अध्यक्ष ने बताया कि इसके साथ ही आनलाइन परीक्षा आयोजित करने पर भी विचार किया जा रहा है।

इस सबंध में नियमावली बनवायी जा रही है, हालांकि कानून में संशोधन कर इन योजनाओं को मूर्तरुप दिया जा सकेगा। पालीवाल ने बताया कि इस संबंध में प्रस्ताव बनाकर शासन को भेजा रहा है।

गौरतलब है कि हाल ही में अधीनस्थ सेवा चयन आयोग ने विभिन्न विभागों में महिलाओं के कोटे से भर्ती 79 और अभियन्ताओं की सेवायें समाप्त कर दी थी।

Public Service Commission की तर्ज पर शासन से मंजूरी मिलते ही इसे लागू कर दिया जायेगा।

-एजेंसी