आज लखीमपुर खीरी पहुंचे उत्तर प्रदेश के कानून मंत्री बृजेश पाठक

भाजपा के वरिष्ठ नेता और उत्तर प्रदेश के कानून मंत्री बृजेश पाठक आज लखीमपुर खीरी पहुंचे. पाठक तीन अक्टूबर की घटना में मृत केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के ड्राइवर हरि ओम और बीजेपी कार्यकर्ता शुभम मिश्रा व श्याम सुंदर निषाद के घर पहुंचकर परिवार के दुख में शामिल हुए.
शुभम मिश्रा के पिता विजय मिश्रा ने इस मुलाकात के बारे में बताया, “हमें आश्वासन दिया है कि साथ खड़े हैं. अगर कोई ज़रूरत हो तो हमें बताइएगा. सुरक्षा के लिए हमें एक लाइसेंसी शस्त्र की व्यवस्था करवा देंगे. हमने बताया कि हमारी प्राइवेट नौकरी थी और हमने छोड़ दी है तो मंत्री जी ने कहा की हम आपके लिए कुछ सहायता करेंगे, शुभम की पत्नी को नौकरी देने की बात भी कह गए हैं.”
इन परिवारों को पहले ही राज्य सरकार की ओर से 45-45 लाख रुपये की आर्थिक मदद मिल चुकी है.
ब्रजेश पाठक योगी सरकार के कैबिनेट मंत्री हैं और पार्टी के कद्दावर ब्राह्मण चेहरा हैं. वह पार्टी के पहले बड़े नेता हैं जो हिंसा में मारे गए बीजेपी कार्यकर्ताओं के परिवार से मिले हैं.
अभी तक पार्टी का कोई भी बड़ा पदाधिकारी इन परिवार वालों से मिलने लखीमपुर नहीं पहुंचा था.
इन मुलाकातों से पहले बृजेश पाठक ने लखीमपुर खीरी भाजपा कार्यालय में पार्टी कार्यकर्ताओं से भी मुलाकात की लेकिन इस दौरान मामले की एसआईटी जांच से जुड़े सवालों पर उन्होंने कोई बयान नहीं दिया.
इससे पहले शनिवार यानी नौ अक्तूबर की शाम को शुभम मिश्रा के परिवार वालों ने लखीमपुर के शिवपुरी इलाके में एक कैंडल मार्च जुलूस निकाला था और पुलिस करवाई की मांग की थी.
परिवार वालों ने आरोप लगाया था कि अब तक पुलिस एकतरफ़ा कार्रवाई कर रही है और उनके परिवार को भी न्याय और इंसाफ़ चाहिए, जिसके बाद भाजपा के नेताओं पर इन परिवार वालों से मिलने का दबाव बढ़ गया था.
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *