अमेरिका ने दी ICC judges को गिरफ्तार कर लेने की चेतावनी

वाशिंगटन। अमेरिका ने अंतरराष्‍ट्रीय अपराध न्‍यायालय के जजों को गिरफ्तार करने की चेतावनी देते हुए कहा कि हमारे सैन्‍यकर्मियों पर मुकद्दमा चलाया तो ICC judges को गिरफ्तार कर लिया जाएगा, उसने ICC को अमेरिकी हितों के खिलाफ भी बताया।

अमेरिका की ओर से यह खुली चेतावनी व्‍हाइट हाउस के नेशनल सिक्‍योरिटी एडवाइजर (NSA) जॉन बोल्‍टन ने दी है। उन्‍होंने द हेग स्थित इस वैश्विक संस्‍था को पूरी तरह ‘गैरजिम्‍मेदार’ और अमेरिका के साथ-साथ इजरायल तथा और अन्‍य सहयोगी देशों के लिए ‘खतरनाक’ बताया। उन्‍होंने यह भी कहा कि अमेरिकी प्रशासन देश के संविधान के ऊपर किसी भी अन्‍य ऑथरिटी को नहीं मानता।

अमेरिका ने अफगानिस्‍तान में तैनात रहे अपने सैन्‍यकर्मियों के खिलाफ युद्ध अपराध का मुकदमा चलाए जाने की स्थिति में अंतरराष्‍ट्रीय अपराध न्‍यायालय ICC judges को गिरफ्तार कर लेने की चेतावनी दी है। अमेरिका का कहना है क‍ि अगर उसके किसी भी सैन्‍यकर्मी के खिलाफ युद्ध अपराध का मुकदमा चलाया जाता है तो वह न सिर्फ संबंधित जजों को गिरफ्तार कर लेगा, बल्कि उन पर प्रतिबंध भी लगाएगा।

बोल्‍टन वाशिंगटन में एक कार्यक्रम में बोल रहे थे। अफगानिस्‍तान में तैनात अमेरिकी सैन्‍य एवं खुफियाकर्मियों पर खास तौर से हिरासत में लिए गए लोगों के खिलाफ युद्ध अपराध के आरोप लगे हैं। आईसीसी प्रॉसीक्‍यूटर ने नवंबर 2017 में इस दिशा में जांच शुरू किए जाने की बात कही थी। लेकिन बोल्‍टन ने इससे साफ इनकार करते हुए उल्‍टा आईसीसी के जजों को गिरफ्तार करने की चेतावनी दे डाली है।

व्‍हाइट हाउस के NSA ने साफ कहा कि न तो अफगानिस्‍तान और न ही किसी अन्‍य देश ने इसकी मांग की है। उन्‍होंने यह भी कहा कि अमेरिका आईसीसी को किसी तरह की मदद नहीं देगा और यह ‘एक दिन अपनी मौत खुद मर जाएगा।’ उन्‍होंने आरोप लगाया कि यह संस्‍था कांगो, सूडान, लीबिया, सीरिया और दुनिया के कई अन्‍य देशों में लोगों के खिलाफ अत्‍याचारों पर रोक लगाने में पूरी तरह व‍िफल रही।-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »