अमेरिका ने S-400 मिसाइल डिफेंस सिस्‍टम को मार गिराने का अभ्‍यास किया

वॉशिंगटन। रूस के साथ चल रहे तनाव के बीच अमेरिका ने अत्‍याधुनिक S-400 मिसाइल डिफेंस सिस्‍टम को मार गिराने का अभ्‍यास किया है। अमेरिका ने इस रूसी ब्रह्मास्‍त्र को मार गिराने का अभ्‍यास अफ्रीका महाद्वीप के मोरक्‍को में किया है। इस व्‍यापक युद्धाभ्‍यास का नाम ‘अफ्रीकन लॉयन’ दिया गया है। अमेरिका ने तुर्की, भारत और अन्‍य देशों के रूसी मिसाइल डिफेंस सिस्‍टम को खरीदने का जोरदार विरोध किया है।
यही नहीं, अमेरिका ने तुर्की पर प्रतिबंध लगा दिया है और भारत पर भी इस प्रतिबंध का खतरा मंडरा रहा है। मीडिया में आई खबरों में कहा गया है कि S-400 को मार गिराने का यह युद्धाभ्‍यास मोरक्‍को के अगादिर इलाके में किया गया। अमेरिकी रक्षा मंत्रालय की ओर से जारी एक वीडियो में एस-400 को मार गिराने के अभ्‍यास का खुलासा हुआ। इस वीडियो में एक शख्‍स कहता नजर आ रहा है, ‘दो एस-400 के खिलाफ दो हमले किए गए।’
अमेरिका ने रूस और चीन दोनों को ही कड़ा संदेश दिया
अधिकारी ने कहा कि वे अभी इन हमलों के असर की समीक्षा कर रहे हैं। यह युद्धाभ्‍यास अमेरिकी सेना के अफ्रीकी टास्‍कफोर्स ने अंजाम दिया है। अमेरिका ने यह नहीं बताया कि एस-400 को तबाह करने के लिए किन हथियारों का इस्‍तेमाल किया गया। हालांकि माना जा रहा है कि अमेरिका ने एस-400 पर हमले के लिए M142 हाई मोबिलिटी आर्टिलेरी रॉकेट सिस्‍टम का प्रयोग किया।
इस बीच कहा यह भी जा रहा है कि अमेरिका ने AGM-88 हाई स्‍पीड एंटी रेडिएशन मिसाइल का इस्‍तेमाल किया हो। इस मिसाइल को मोरक्‍को की सेना ने अमेरिका से खरीदा है। एफ-16 सी/डी विमान के जरिए दागा जा सकता है। वॉर जोन की रिपोर्ट के मुताबिक मोरक्‍को के पड़ोसी अल्‍जीरिया ने अभी एस-400 को खरीदा है या नहीं, यह स्‍पष्‍ट नहीं है। माना जा रहा है कि इस अभ्‍यास के जरिए अमेरिका ने रूस और चीन दोनों को ही कड़ा संदेश दिया है। ये दोनों ही देश एस-400 का इस्‍तेमाल करते हैं।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *