UPPSC: चयन से पहले ही 1500 छात्र मुख्‍य परीक्षा से बाहर

उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग ( UPPSC ) के पीसीएस 2019 (PCS 2019) में चयन से पहले ही 1500 प्रतियोगी छात्र मुख्य परीक्षा से बाहर हो गए हैं। पहले प्रारंभिक परीक्षा ( UPPCS Prelims 2019) के आधार पर 18 गुना अभ्यर्थियों को मुख्य परीक्षा के लिए सफल घोषित किया जाता था लेकिन अब 13 गुना प्रतियोगी ही मेन्स में सम्मिलित हो सकेंगे। 18 गुना के लिहाज से 300 पदों पर कायदे से 5400 छात्रों को बुलाया जाना था लेकिन अब 13 गुना के हिसाब से 3900 अभ्यर्थी ही मेन्स दे सकेंगे।
इस प्रकार 1500 अभ्यर्थियों का कम होना तय है। विकास तिवारी का कहना है कि पीसीएस की प्रारंभिक परीक्षा छंटनी परीक्षा मानी जाती है। जिसको 13 गुना करके अंतिम चयन जैया बना दिया गया है। छात्रों का पूरा फोकस अब प्रारंभिक परीक्षा पर हो जाएगा। ऐसे में उसकी मुख्य परीक्षा की तैयारियों की गुणवत्ता बुरी तरह से प्रभावित हो जाएगी।
जिन पांच विषयों को मुख्य परीक्षा से बाहर किया गया है उनमें सोशल वर्क और डिफेंस स्टडीज को लेकर छात्रों में अधिक नाराजगी है। समाजकार्य विषय से पीसीएस की तैयारी कर रहे दिनेश तिवारी और डिफेंस स्टडीज से तैयारी कर रहे नवीन पंकज जैसे सैकड़ों छात्र आयोग के इस निर्णय से अवसाद में चले गए हैं। उन्हें समझ नहीं आ रहा की आगे क्या होगा। आंख के सामने अंधेरा छा गया है।
300 पदों पर आवेदन शुरू
UPPSC ने पीसीएस PCS, एसीएफ एवं आरएफओ 2019 प्रारंभिक परीक्षा ( UPPCS Prelims 2019 ) के लिए ऑनलाइन आवेदन बुधवार से शुरू कर दिए। पीसीएस के एसडीएम, डिप्टी एसपी समेत अन्य तकरीबन 300 पदों के लिए होने जा रहे चयन में इस बार आयोग ने कई महत्वपूर्ण बदलाव किए हैं।
फीस जमा करने की आखिरी तारीख 11 नवंबर है। पूरी तरह से भरे हुए फार्म ऑनलाइन जमा करने की अंतिम तिथि 13 नवंबर है। अभ्यर्थियों को एक जुलाई 2019 को न्यूनतम 21 और अधिकतम 40 वर्ष होनी चाहिए। विशेष परिस्थितियों में शासन के अनुरोध पर रिक्तियों की संख्या घट-बढ़ सकती है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »