UPCM ने किया 346 करोड़ 74 लाख 79 हजार रुपये की योजनाओं का लोकार्पण

मथुरा/वृंदावन। आज यहां UPCM योगी आदित्‍यनाथ ने 346 करोड़ 74 लाख 79 हजार रुपये की योजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया।

इसमें कृष्ण कुटीर आश्रम सदन की शिला पट्टिका का अनावरण भी किया। इस अवसर पर उन्‍होंने कहा कि भारत सरकार ने इस महिला आश्रय सदन के संचालन के लिए 7.38 करोड़ रुपये से अधिक की स्वीकृति प्रदान की है। साथ ही प्रदेश सरकार ने भी 72 लाख रुपये प्रतिवर्ष का प्रावधान अपने बजट में किया है।

UPCM Yogi Adityanath inaugurated and laid the foundation of various projects in Mathura
UPCM Yogi Adityanath inaugurated and laid the foundation of various projects in Mathura

UPCM ने कहा कि यमुना के बीच में सोहरी वन के निर्माण का प्रबंध किया जा रहा है। बरसाने में रोपवे का कार्य पीपीपी मॉडल से करने की व्यवस्था हो रही है। 84 कोस की परिक्रमा के मार्ग में हरियाणा का कुछ क्षेत्र पड़ता है। इसमें एक पुल की भी आवश्यकता है। हमने पांटून पुल का प्रबंध पिछले वर्ष किया था।

तीर्थ विकास परिषद के जरिए सड़कों एवं आश्रय स्थलों की व्यवस्था को ठीक किया जाएगा।
प्रसाद योजना के तहत 50 करोड़ रुपये के कार्य के लिए केंद्र सरकार ने स्वीकृति प्रदान की है।

एक तरफ हम गाय को माता बुलाते हैं लेकिन उसे सड़क पर कचरा खाने के लिए छोड़ देते हैं, ऐसा नहीं होना चाहिए।
हर परिवार को गाय के लिए भोजन व अन्य प्रबंध करने चाहिए। हम सभी इस पवित्र कार्य के लिए सहभागी बनें।भगवान कृष्ण ने ब्रज में इसलिए जन्म लिया ताकि यहां गोसेवा हो। सड़कों पर गौमाता न घूमें, उन्हें गोशालाओं में रखने की व्यवस्था हो, इसके लिए प्रयास किए जाएं।

मेरा आप सभी से आह्वान है कि हम संकल्प लें कि कूड़ा इधर-उधर नहीं फेंकेंगे। कूड़े को निर्धारित स्थान पर ही डालेंगे
ब्रज क्षेत्र में डोर-टु-डोर वेस्ट कलेक्शन की व्यवस्था की जा रही है।
प्लास्टिक व थर्माकोल को पूरी तरह प्रतिबंधित किया गया है।
तीर्थ क्षेत्र में इसके लिए जागरूकता की भी जरूरत है

मुख्‍यमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार ने रानी लक्ष्मीबाई महिला सम्मान कोष का भी गठन किया है।
जीवन के हर क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाली महिलाओं का सम्मान इस योजना का लक्ष्य है
उत्तर प्रदेश सरकार ने इस दिशा में कुछ नए कार्यक्रम आगे बढ़ाने के काम किए हैं।
महिला हेल्पलाइन 181 और रेस्क्यू वैन के संचालन के कार्य के व्यापक प्रचार-प्रसार की जरूरत है।
पेंशन के लिए ऑनलाइन सुविधा भी शुरू की गई है।
पहले निराश्रित महिला पेंशन के लिए आयु वर्ग की बाध्यता थी।
अब हमने आयु वर्ग की बाध्यता को समाप्त कर दिया है।
हर निराश्रित महिला को हम इस पेंशन योजना से लाभान्वित करने का काम करेंगे।
पेंशन के लिए ऑनलाइन सुविधा भी शुरू की गई है
जनप्रतिनिधिगण भी समय-समय पर आकर यहां की भोजन व अन्य व्यवस्थाओं को देखें और प्रयास करें कि यहां पर कुछ न कुछ बेहतर होता रहे।
जो माताएं इस सदन में आ चुकी हैं, उनकी आंखों की नियमित जांच हो, जिनके मोतियाबिंद के आपरेशन होने हैं, उनके लिए स्थानीय प्रशासन को व्यवस्था करनी चाहिए।
हमारी सरकार ने ब्रज के विकास के लिए एक कार्ययोजना तैयार की है।
वृंदावन व उसके आसपास के 7 तीर्थों को चिह्नित करके उनके विकास के लिए तीर्थ स्थल विकास बोर्ड का गठन किया गया है।
यहां के लोग इसलिए भी खुश होंगे क्योंकि उन्होंने ऐसा सांसद चुना है जिनकी देश-दुनिया में कला के क्षेत्र में ख्याति है। जब वृंदावन कला व संस्कृति के क्षेत्र में आगे बढ़ेगा तो एक नई व अच्छी तस्वीर देखने को मिलेगी।
आज प्रधानमंत्री जी और केंद्रीय बाल विकास व महिला कल्याण मंत्री मेनका गांधी के प्रयासों से वृंदावन में 1000 निराश्रित महिलाओं के लिए यह भवन बनकर तैयार हुआ है। यहां नियमित भजन संध्या के कार्यक्रम होंगे। एनबीसीसी ने समय सीमा के अंदर इस शानदार भवन को बनाया है, उन्हें भी धन्यवाद देता हूं।

इस अवसर पर आईं केंद्रीय महिला व बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने कहा कि कृष्णा कुटीर एक ऐसी जगह होगी, जिसमे रहने वाली महिलाएं सहज महसूस करेंगी और जीवन के अपने अनुभवों को साझा करेंगी, यह एक ऐसा स्थान है जहां महिलाएं एक-दूसरे से बहुत कुछ सीख सकेंगी।
इस आश्रय गृह में एक हज़ार विधवा महिलाएं रह सकती हैं जो अकेली पड़ गई हैं और जिनके पास निवास की कोई सुनिश्चित व्यवस्था नहीं है। यंहा न केवल उनकी पोषण व स्वास्थ्य सम्बन्धी बुनियादी जरूरतों को पूरा किया जाएगा बल्कि कानूनी सलाह व परामर्श सेवाएं भी प्रदान की जाएंगी।

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »