UP सरकार के आंकड़े: छह महीनों में 420 मुठभेड़, 15 बदमाश ढेर

लखनऊ। UP सरकार की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक पिछले छह महीनों में 420 मुठभेड़ों के दौरान 15 अपराधियों को मार गिराया गया है। इस दौरान 193 एनकाउंटर मेरठ, 84 एनकाउंटर आगरा और 60 मुठभेड़ बरेली में हुए हैं। यूपी पुलिस ने 868 इनामी बदमाशों को गिरफ्तार किया है। इसके अलावा 1106 दूसरे अपराधी भी पुलिस के हत्थे चढ़े हैं।
यूपी की कमान संभालने के बाद ही योगी आदित्यनाथ ने अपराधियों को सख्त संदेश देते हुए कहा था, ‘अगर अपराध करेंगे तो ठोक दिए जाएंगे’। अब इसका असर अब दिखने भी लगा है।
योगी के सीएम बनने के बाद यूपी पुलिस ने अपराधियों के खिलाफ कई मुठभेड़ को अंजाम दिया है।
मुठभेड़ के आंकड़े 20 मार्च से लेकर 14 सितंबर तक के हैं। दिलचस्प बात यह है कि 48 खतरनाक अपराधी तो छह हफ्तों के भीतर ढेर किए गए हैं। हालांकि, एनकाउंटर में यूपी पुलिस को भी नुकसान हुआ है और 88 पुलिस वाले जख्मी हुए हैं।
इंसपेक्टर जनरल (लॉ ऐंड ऑर्डर) हरि ओम शर्मा ने मीडिया को बताया कि क्राइम को रोकने के लिए एनकाउंटर पुलिस के प्रयास का हिस्सा है। उन्होंने साफ किया कि इन मुठभेड़ों के दौरान अपराधियों को पहले सरेंडर करने को कहा गया था। जब अपराधियों ने सरेंडर के बजाय फायरिंग की, तभी उनके खिलाफ जवाबी कार्यवाही की गई।
राहुल श्रीवास्तव (पब्लिक रिलेशंस ऑफिसर, यूपी पुलिस) ने भी ट्वीट कर प्रदेश पुलिस की प्रशंसा की थी। उन्होंने लिखा था, 12000 का इनामी बदमाश शामली में पुलिस एनकाउंटर में जख्मी, दूसरा मुजफ्फरनगर में जख्मी। अपराधियों के खिलाफ पुलिस का अभियान जारी है.
-एजेंसी