यूपी कांग्रेस ने विधानसभा के बाहर डीजल-पेट्रोल को लेकर प्रदर्शन किया

लखनऊ। जहां एक ओर रविवार को बीजेपी कार्यालय के बाहर प्रधानमंत्री मोदी का जन्मदिन मनाया जा रहा है। वहीं दूसरी ओर यूपी कांग्रेस ने पास ही स्थित विधानसभा के बाहर डीजल-पेट्रोल को लेकर प्रदर्शन किया। पेट्रोल- डीजल के बढ़ते दामों को लेकर किए गए प्रदर्शन में कांग्रेसियों ने कम दाम पर पेट्रोल-डीजल बेचा।
यूपी कांग्रेस प्रदेश सचिव शैलेंद्र तिवारी ने बताया, ‘पूरी दुनिया में सबसे महंगा टैक्स पेट्रोल-डीजल पर भारत में लगाया जा रहा है। इससे महंगाई दर और बढ़ेगी। लोग पहले से ही भूखों मर रहे हैं, गोरखपुर में बच्चों की मौत हो रही है और आप आज जश्न मना रहे हैं। हम इसका विरोध करते हैं। हमने विधानसभा के बाहर उनके विशालकाय कटआउट के सामने ही अपना प्रदर्शन शुरू किया।’ शैलेंद्र ने बताया कि प्रदर्शन करते हुए हमने कम दामों में जीएसटी के साथ 20 लीटर डीजल और 30 लीटर पेट्रोल बेचा। हमने इस दौरान प्रत्येक व्यक्ति को आधा-आधा लीटर पेट्रोल और डीजल बांटा।
इस दौरान पेट्रोल की कीमत 35 रुपए लीटर और डीजल की कीमत 25 रुपए लीटर रखी गई। प्रदर्शन सुबह आठ बजे से दस बजे तक चला।
पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों की वजह से केंद्र सरकार पहले से ही विपक्ष के निशाने पर है और लगातार सरकार से टैक्स की दरों को कम करने की सिफारिश कर रहा है। शनिवार को कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने भी ट्विटर पर लिखा था, ‘विमुद्रीकरण त्रासदी के बाद जीएसटी लागू किया गया और अब मोदी जी आम भारतीयों को पेट्रोल-डीजल के दामों पर टैक्स लगाकर भारी सजा दे रहे हैं।’
16 जून से पेट्रोल और डीजल के दाम हर दिन अंतर्राष्ट्रीय बाजार के हिसाब से बदल रहे हैं। कीमतों में बदलाव सुबह छह बजे होता है। एक जुलाई को जहां पेट्रोल के दाम 66.53 रुपए लीटर थे वही एक सितंबर को 71.61 रुपए प्रति लीटर तक पहुंच गए हैं। वहीं डीजल के दाम एक जुलाई को 55.18 रुपए प्रति लीटर से एक सितंबर को 58.50 रुपए लीटर तक पहुंच गए हैं।
-एजेंसी