यूपी ATS ने अवैध विस्‍फोटक बेचने वाले 4 लोग पकड़े, 1000 डेटोनेटर और 5000 जिलेटिन रॉड बरामद

लखनऊ। यूपी ATS (आतंकवाद निरोधक दस्ता) ने कॉमर्शियल विस्फोटकों का अवैध कारोबार करने वाले गैंग के चार लोगों को झांसी से गिरफ्तार किया है। गैंग के पास से 1000 डेटोनेटर और 5000 जिलेटिन रॉड बरामद हुई हैं। गैंग के सरगना चरण सिंह को यूपी ATS पहले भी गिरफ्तार कर चुकी है। वह कुछ समय पहले ही जमानत पर छूट कर आया है।
आईजी ATS एडीजी असीम अरुण ने बताया कि गैंग के लोग बोलेरो व पिकप में विस्फोटक लेकर जा रहे थे। झांसी के उल्दन स्थित बंगरा चौराहा पर ATS ने चार लोगों को विस्फोटकों के साथ धर लिया। गिरफ्तार लोगों की शिनाख्त झांसी निवासी चरण सिंह, दीनबंधु, पुष्पेंद्र झा और एमपी के टीकमगढ़ निवासी सीताराम पाल के रूप में हुई है। इन लोगों ने पूछताछ में बताया है कि ये लोग विस्फोटक ओरछा से लेकर आ रहे थे।
नक्सलियों या आतंकियों को तो नहीं होना था सप्लाई?
आरोपियों का कहना है कि विस्फोटकों का इस्तेमाल खनन के लिए करना था। हालांकि ATS को आशंका है कि कहीं ये विस्फोटक नक्सलियों या आतंकियों को तो नहीं सप्लाई किए जा रहे थे। इन्हें कस्टडी रिमांड पर लेकर पूछताछ की जाएगी। यह पता लगाया जाएगा कि ये लोग विस्फोटक लेकर कहां जा रहे थे।
एडीजी असीम अरुण ने बताया कि इससे पहले यूपी ATS ने कानपुर और झांसी पुलिस की मदद से 25 अगस्त 2016 में छह लोगों को गिरफ्तार किया था। दबिश के दौरान एटीएस ने झांसी के मोंठ से बड़ी मात्रा में विस्फोटक बरामद किया था।
बिजनौर में मदरसे से मिले थे हथियार
इससे पहले इसी महीने पश्चिमी यूपी के बिजनौर जिले में पुलिस ने एक मदरसे और एक मकान में छापा मारकर अवैध हथियारों के साथ 6 लोगों को गिरफ्तार किया था। इस कार्यवाही में पुलिस ने जिन लोगों को गिरफ्तार किया, उनमें एक मदरसा संचालक भी शामिल है। इन लोगों के पास से एक पिस्तौल, दो मैग्जीन, चार तमंचे और 24 कारतूस समेत अन्य सामान बरामद किए गए थे।
बिजनौर के सीओ कृपा शंकर कनौजिया के मुताबिक पुलिस को मदरसे में बाहरी लोगों की आवाजाही की जानकारी मिली थी। इस सूचना के आधार पर जांच के बाद पुलिस ने मदरसे पर छापा मारा, जहां से अवैध हथियार मिले। इस कार्रवाई के दौरान पुलिस के मदरसा संचालक मोहम्मद साजिद, फहीम अहमद, जफर इस्लाम, सिकंदर अली, मोहम्मद शाहिद और अजीजुर्रहमान को गिरफ्तार किया।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »