उन्नाव गैंगरेप: पीड़िता और उसकी मां के खिलाफ जालसाजी का केस दर्ज

लखनऊ। चर्चित उन्नाव गैंगरेप केस में बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर रेप का आरोप लगाने वाली पीड़ित लड़की पर ही पुलिस ने जालसाजी और धोखाधड़ी का केस दर्ज किया है। पुलिस ने नाबालिग पीड़िता, उसकी मां और चाचा के खिलाफ केस दर्ज किया है। यह केस मामले की सह आरोपी शशि सिंह के पति हरिपाल सिंह की तहरीर पर दर्ज किया गया है।
हरिपाल ने पीड़िता पर 2017 में उनके बेटे को अपहरण के फर्जी केस में फंसाने का आरोप लगाया है।
एफआईआर में हरिपाल सिंह ने यह भी आरोप लगाया है कि पीड़िता के परिवारवालों ने उसे नाबालिग दिखाने के लिए उसकी उम्र गलत बताई और पुलिस को गुमराह किया। आरोप है कि पीड़िता के परिवार ने उम्र गलत बताने के लिए सर्टिफिकेट पर अथॉरिटी के फर्जी हस्ताक्षर बनाए। सीबीआई ने हरिपाल की पत्नी शशि को पीड़िता को नौकरी का झांसा देकर मुख्य आरोपी कुलदीप सिंह सेंगर के पास ले जाने के आरोप में गिरफ्तार किया है।
पुलिस ने नहीं लिखी एफआईआर तो कोर्ट पहुंचा
जिला अदालत के आदेश पर पुलिस ने अब नाबालिग पीड़िता, उसकी मां और चाचा के खिलाफ जालसाजी और धोखाधड़ी का केस दर्ज किया है। शिकायतकर्ता हरिपाल ने अदालत में केस दर्ज करने की गुहार लगाई थी, उसका आरोप था कि पुलिस उसका केस नहीं दर्ज कर रही है।
‘हमारे पास नहीं हैं केस लड़ने भर के पैसे’
इस बारे में बात करने पर पीड़िता ने हैरानी जताई। उसके मुताबिक अब केस में यह ट्विस्ट हैरान करने वाला है जबकि सीबीआई कुलदीप सिंह सेंगर के खिलाफ रेप के मामले में दो चार्जशीट दाखिल कर चुकी है। पीड़िता की बहन ने बताया, ‘उसके पिता की न्यायिक हिरासत में मौत हो गई, चाचा महेश को एक अन्य केस में गिरफ्तार कर लिया गया। हमारे घर में सिर्फ एक जिंदा पुरुष सदस्य बचा है और वह मेरा 5 साल का बेटा है। हम सभी अनपढ़ हैं और बिल्कुल भी अंदाजा नहीं है कि कैसे केस लड़ना है।’
उधर उन्नाव पुलिस का कहना है कि उन्होंने सिर्फ कोर्ट के आदेश का पालन किया है। हरिपाल की शिकायत पर यह एफआईआर बीते 23 दिसंबर को दर्ज की गई थी।
एक पुलिस अधिकारी के मुताबिक ‘मामले में क्रिमिनल केस दर्ज किया गया है। जांच अधिकारी जल्द ही अपनी जांच शुरू करेंगे।’
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *