कच्चे तेल की कीमतों को मजबूत करने के लिए संयुक्त अरब अमीरात की नई रणनीति

दुबई। कच्चे तेल की कीमतों में गिरावट के चलते संयुक्त अरब अमीरात ने अब इकॉनमी को मजबूत करने के लिए नई रणनीति अपनाई है। यूएई ने इकॉनमी को दुरुस्त करने के लिए अमीर प्रॉपर्टी निवेशकों, सीनियर साइंटिस्टों और आंत्रप्रेन्योर्स को लॉन्ग टर्म वीजा का ऑफर दिया है। अरब की दूसरी सबसे बड़ी इकॉनमी कहे जाने वाले इस देश में अब तक विदेशी लोगों को कुछ साल तक रहने का ही मौका मिलता था।
आमतौर पर यह इस बात पर निर्भर करता रहा है कि यूएई में ठहरे के परिवार के मुख्य सदस्य के रोजगार की स्थिति क्या है। रोजगार न रह जाने की स्थिति में ऐसे लोगों का रहना मुश्किल होता था। अब यूएई सरकार का कहना है कि वह अपनी वीजा पॉलिसी को आसान बनाने पर विचार कर रही है।
इसी के तहत शनिवार को यूएई सरकार की कैबिनेट ने 50 लाख दिरहम तक की रियल एस्टेट प्रॉपर्टी वाले लोगों को 5 साल तक रहने की अनुमति देने का फैसला लिया है। हालांकि इस प्रॉपर्टी पर लोन नहीं होना चाहिए। यही नहीं यदि यूएई में आपके पास 1 करोड़ दिरहम तक की संपत्ति है तो फिर 10 साल के लिए वीजा मिल सकता है।
यदि आप खाते में इसके मुकाबले 60 फीसदी राशि भी रखते हैं तो आप पति, पत्नी या फिर बच्चों को भी यूएई ला सकते हैं। इसके अलावा प्रतिभाशाली छात्रों को 5 साल, वैज्ञानिकों को 10 साल और आंत्रप्रेन्योर्स को 5 साल का वीजा मिल सकता है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »