जल संरक्षण को लेकर अनोखी पहल: यूपी विधानसभा में मिलेगा आधा गिलास पानी

लखनऊ। उत्तर प्रदेश विधानसभा परिसर में जल संरक्षण को लेकर एक अनोखी पहल की गई है। यहां के सचिवालय और विधानसभा परिसर में हर किसी को अब सिर्फ आधा गिलास पानी दिया जाएगा। आधा गिलास पानी पीने के बाद अगर और प्यास लगती है तो फिर से पानी मांगा जा सकता है। विधानसभा सचिवालय के प्रमुख सचिव प्रदीप दुबे की ओर से इसका आदेश जारी किया गया है।
हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मन की बात में लोगों से जल संरक्षण की अपील की थी। पीएम की अपील को यूपी विधानसभा अध्यक्ष ने गंभीरता से लिया और उन्होंने विधानसभा परिसर में आधा गिलास पानी देने वाला नियम बनाया है।
प्रदीप दुबे की तरफ से जारी किए गए आदेश में कहा गया है कि ऐसी व्यवस्था विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित की मंशा पर जारी किया गया है। यह व्यवस्था जल संरक्षण के लिए की जा रही है। आदेश में कहा गया है कि अकसर पूरा गिलास पानी लोग नहीं पीते और बाकी पानी बर्बाद होता है।
आदेश में लिखा है कि विधानसभा परिसर में प्रारम्भ में आधा गिलास जल दिया जाए। कई बार यह देखा गया है कि पूरे भरे हुए गिलास को लोग एक-दो घूंट पीकर या आधा गिलास पानी पीकर हो छोड़ देते हैं। ऐसे में बाकी पानी बर्बाद हो जाता है। लोगों को आवश्यकता होने पर फिर से पानी दिया जा सकता है।
प्रदीप ने आदेश में कहा है कि विधानसभा परिसर और सचिवालय के सभी अनुभागों में प्रारंभ में आधा गिलास जल ही दिया जाए। विधानसभा के सभी अधिकारियों और कर्मचारियों से यह अपेक्षा की जाती है कि वह इस व्यवस्था का तत्काल प्रभाव से अनुपालन सुनिश्चित करेंगे।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »