कश्‍मीर पर भारत के फैसले को लेकर UN ने प्रतिक्रिया देने से साफ इंकार किया

संयुक्त राष्ट्र। जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देना वाले अनुच्छेद 370 को खत्म करने के बाद से देश से लेकर विदेश तक राजनीतिक गलियारों में हलचल तेज हो गई है।
इस बीच पाकिस्तान इस मुद्दे को संयुक्त राष्ट्र UN में उठाने की बात कर रहा है। वहीं UN ने इस पूरे मुद्दे पर चुप्पी साधी हुई है। पाकिस्तान इल्जाम लगा रहा है कि भारत ने इस मामले पर संयुक्त राष्ट्र के प्रस्ताव का उल्लंघन किया है।
UN महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने इस मामले पर किसी भी तरह की कोई प्रतिक्रिया देने से साफ इंकार कर दिया है। उन्होंने केवल इतना दोहराया कि संयुक्त राष्ट्र चिंता के साथ इस क्षेत्र के विकास का अनुसरण कर रहा है।
अनुच्छेद 370 पर क्या बोले UN के महासचिव
भारत सरकार ने सोमवार को जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले संविधान के अनुच्छेद 370 को रद्द कर दिया और राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में विभाजित कर दिया। एंटोनियो गुटेरेस ने कहा कि मुझे लगता है कि हमने अपनी अभिव्यक्ति व्यक्त कर दी है। हमने बहुत स्पष्ट रूप से कहा है कि हम इस क्षेत्र में चिंता के साथ घटनाक्रमों का अनुसरण कर रहे हैं। महासचिव स्टीफन दुजारिक के प्रवक्ता ने मंगलवार को दैनिक प्रेस वार्ता में कहा कि हम सभी पक्षों से संयम बरतने का आग्रह करती है।
क्या भारत ने किया प्रस्ताव का उलंल्घन, UN महासचिव ने दिया ये जवाब
उनसे पूछा गया कि क्या महासचिव का मानना ​​है कि कश्मीर के विशेष दर्जे को रद्द करने का भारत का निर्णय संयुक्त राष्ट्र के प्रस्तावों का उल्लंघन है, इस पर वह चुप रहे इसके बाद उनसे फिर जवाब देने के लिए जबाव डाला गया तो डुजारिक ने कहा नहीं-नहीं, मैं समझता हूं कि आप मुझसे क्या पूछना चाह रहे हैं लेकिन दुर्भाग्य से आपको इस बिंदु पर मेरे जवाब के रूप में चुप्पी से ही समझौता करना होगा।
क्या पाकिस्तान ने भेजा UN को पत्र
यह पूछे जाने पर कि क्या इस मुद्दे पर महासचिव को पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी का पत्र मिला है, दुजारिक ने कहा कि वह प्रेस रिपोर्टों से अवगत हैं जिसमें कहा गया है कि यह पत्र संयुक्त राष्ट्र प्रमुख को भेजा गया है। हम इस बात की पुष्टि नहीं कर पा रहे थे कि पत्र वास्तव में प्राप्त हुआ था। जाहिर है कि एक बार पत्र मिलेगा तो इसे देखा जाएगा और इस पर विचार-विमर्श किया जाएगा।
संयुक्त राष्ट्र के प्रमुख गुटेरेस ने कहा कि वह इस क्षेत्र में तनावपूर्ण स्थिति का सामना कर रहे हैं और उन्होंने भारत और पाकिस्तान से संयम बरतने का आग्रह किया है। इस मुद्दे पर एक और सवाल का जवाब देते हुए कि क्या संयुक्त राष्ट्र प्रमुख इस मुद्दे को हल करने में भूमिका निभाना चाहते हैं, दुजारिक ने कहा था, ”हम तनाव में वृद्धि को लेकर बहुत चिंतित हैं।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *