पीएसएल से एडवांस में म‍िली फीस वापस करें उमर अकमल: पीसीबी

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के खिलाड़ी उमर अकमल को पीसीबी ने पीएसएल से एडवांस में मिलने वाली फीस वापस करने को कहा है।

भ्रष्टाचार के आरोप में पीसीबी द्वारा निलंबित किए गए उमर अकमल

पाकिस्तान सुपर लीग के पांचवें सीजन के आगाज से कुछ घंटे पहले भ्रष्टाचार के आरोप में पीसीबी द्वारा निलंबित किए गए उमर अकमल के लिए परेशानियां बढ़ती जा रही हैं। एक तरफ पीसीबी ने उनके सभी तरह के क्रिकेट खेलने पर बैन लगा दिया है। ऐसे में उनसे लिए स्थितियां और शर्मनाक होती जा रही हैं। पाकिस्तान सुपर लीग भी उनसे मैच फीस वापस लेने जा रही है जो उन्हें टूर्नामेंट से पहले एडवांस के रूप में दी गई है।

एंटी करपश्न कोड( धारा 4.7.1) के उल्लंघन के आरोप में निलंबित

पीसीबी ने उमर अकमल को आचार संहिता के एंटी करपश्न कोड( धारा 4.7.1) के उल्लंघन के आरोप में निलंबित कर दिया था। ऐसे में क्वेटा ग्लेडिएटर्स के लिए खेलने वाले उमर अकमल को पीएसएल की गोल्ड कैटेगरी का खिलाड़ी होने के एवज में 50 हजार अमेरिकी डॉलर( यानी 35 लाख भारतीय रुपये) मिलने थे। पाकिस्तान में फ्रेंचाइजी आधारित क्रिकेट लीग के नियमों के अनुसार हर क्रिकेट खिलाड़ी को नए सीजन के आगाज से पहले फीस की कुल राशि में से सत्तर प्रतिशत एडवांस में दे दी जाती है। उमर को सत्तर प्रतिशत राशि उन्हें मिल चुकी है। ऐसे में उन्हें अब ये पैसे लौटानी होगी।

पीसीबी का टी-20 लीग में खिलाड़ियों को मिलने वाली फीस पर सीधा दखल
समाचार एजेंसी पीटीआई के सूत्रों के मुताबिक उमर को मैच फीस पीसीबी को लौटाने के लिए कहा गया है। दुनिया की अन्य क्रिकेट लीग की तुलना में पीसीबी ने टी-20 लीग में खिलाड़ियों को मिलने वाली फीस पर सीधा दखल रखा है। पीसीबी ने ऐसा नियम खिलाड़ियों को मिलने वाली फीस में होने वाली देरी को टालने और उस वजह से उपजने वाले विवादों को टालने के लिए बनाए हैं। खिलाड़ियों को फीस के चेक पीसीबी खुद भेजता है जिससे कि नियत समय पर मिल सके। इसके बाद वो फ्रेंचाइजी में अपनी हिस्सेदारी के साथ उसे एडजस्ट कर लेता है।

जैसे कि उमर अकमल भ्रष्टाचार के आरोप का सामना कर रहे हैं और उनके खिलाफ जांच लंबित है। 29 वर्षीय उमर अकमल पर आरोप है कि उन्होंने बुकी से मुलाकात की और उनसे पीएसएल के मैचों के दौरान स्पॉट फिक्सिंग करने के लिए कहा गया। हालांकि पीसीबी ने अभी उन्हें चार्ज शीट नहीं दी है। लेकिन बताया जा रहा है कि उमर ने खुद को बेदाग साबित करने के लिए पाकिस्तान के बड़े वकील की सेवाएं ली हैं।

उमर ने खुद पर लगे सभी आरोपों को निराधार बताया है और कहा है कि उन्हें किसी बुकी से मैच फिक्सिंग का कोई ऑफर नहीं मिला है। क्वेटा ग्लेडिएटर्स ने उमर की जगह अनवर अली को टीम में शामिल किया है। गत विजेता क्वेटा की टीम अपने शुरुआती चार मैचों में से तीन में जीत हासिल कर टॉप पर बनी हुई है।

– एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *