UGC ने भारतीय छात्रों के लिए ड्यूल डिग्री लेने का रास्‍ता खोला

नई दिल्‍ली। भारतीय छात्र जल्द ही देश के हायर एजुकेशन इंस्टीट्यूट के साथ ही विदेशी संस्थानों से एक साथ ड्यूल डिग्री ले सकेंगे। यूनिवर्सिटी ग्रांट कमिशन (UGC)ने भारतीय और विदेशी हायर एजुकेशन इस्टीट्यूशन्स के लिए ड्यूल डिग्री और ट्विनिंग प्रोग्राम्स को रेगुलेट करने संबंधी ड्राफ्ट को अंतिम रूप दे दिया है। हालांकि इस संबंध में अंतिम निर्णय ड्राफ्ट के मूल्यांकन के बाद फीडबैक के आधार पर लिया जाएगा। इसे जल्द ही नोटिफाई कर पब्लिक डोमेन में लाया जाएगा।
नियम ऑनलाइन कोर्स पर नहीं होगा लागू
यूजीसी (भारतीय और विदेशी उच्च शिक्षा संस्थानों के बीच जॉइंट डिग्री, ड्यूल डिग्री और ट्विनिंग कार्यक्रम) रेगुलेशन, 2021 ड्राफ्ट के अनुसार भारत के हायर एजुकेशनल इंस्टीट्यूट, अपने विदेशी समकक्षों के साथ क्रेडिट मान्यता और ट्रांसफर, ट्विनिंग अरेंजमेंट के साथ ही डिग्री देने के लिए समझौता कर सकते हैं। हालांकि, यह नियम ऑनलाइन और ओपन एंड डिस्टेंस लर्निंग मोड में दिए गए कार्यक्रमों पर लागू नहीं होंगे।
भारतीय डिग्री के बराबर होगी मान्यता
ड्राफ्ट के अनुसार इन सहयोगों के आधार पर दी गई कोई भी डिग्री या डिप्लोमा “भारतीय उच्च शिक्षा संस्थान द्वारा प्रदान की गई किसी भी संबंधित डिग्री या डिप्लोमा के बराबर होगा। इसे किसी भी प्राधिकारी से तुल्यता प्राप्त करने की कोई आवश्यकता नहीं होगी।
ये संस्थान कर सकते हैं विदेशी संस्थान के साथ सहयोग
राष्ट्रीय मूल्यांकन और प्रत्यायन परिषद (NAAC) द्वारा मान्यताप्राप्त कोई भी भारतीय संस्थान (3.01 के न्यूनतम स्कोर के साथ) या राष्ट्रीय संस्थागत रैंकिंग फ्रेमवर्क (NIRF) के टॉप-100 में शामिल कोई भी यूनिवर्सिटी या प्रतिष्ठित संस्थान टाइम्स हायर एजुकेशन या क्यूएस वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग के टॉप-500 में शामिल किसी भी विदेशी संस्थान के साथ समझौता कर सकता है।
चार तरह के एकेडमिक सहयोग कर सकते हैं
ड्राफ्ट के अनुसार चार तरह के एकेडमिक सहयोग की अनुमति दी जाएगी। इसमें क्रेडिट रेकगनिशन और ट्रांसफर, जॉइंट डिग्री प्रोग्राम, ड्यूल डिग्री प्रोग्राम और ट्विनिंग अरेंजमेंट से जुड़ा समझौता शामिल हैं। ट्विनिंग अरेंजमेंट के तहत एक स्टूडेंट भारतीय इंस्टीट्यूट में एनरॉल होने के बाद अपने प्रोग्राम का कुछ हिस्सा विदेशी संस्थान में पूरा करेगा। इसमें उसे डिग्री सिर्फ भारतीय इंस्टीट्यूट से ही मिलेगी।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *