उद्धव ठाकरे का संदेश: घर रहकर पत्‍नी की सुन रहा हूं, आप भी सुनें

मुंबई। देशभर में 21 दिन के लॉकडाउन के पहले दिन देश के सभी राज्यों में सड़कों पर सन्नाटा पसरा हुआ है। महाराष्ट्र में लॉकडाउन की स्थितियों के बीच प्रदेश सरकार ने आम लोगों को हर जरूरी सामान की पूरी उपलब्धता का दावा किया है। लोगों से घर में रहने की अपील करते हुए सीएम उद्धव ने बुधवार को एक खास टिप्पणी करते हुए कहा है कि विवाहित लोग घर में रहें और अपनी पत्नी की बात सुनें।
सीएम उद्धव ने बुधवार को एक खास मेसेज शेयर करते हुए कहा, मैं अपने घर में हूं और मिसेज सीएम की बात सुन रहा हूं। आप लोग भी घर में रहें और अपनी होम मिनिस्टर (पत्नी) की सुनें और किसी भी तरह से पैनिक ना करें। महाराष्ट्र में आम लोगों की जरूरत का सभी सामान उपलब्ध है। उद्धव ने यह बात ट्विटर पर महाराष्ट्र के लोगों को सम्बोधित करते हुए कहा। महाराष्ट्र में अब तक कोरोना के कुल 116 मामले सामने आए हैं। कोरोना पॉजिटिव होने के 9 नए मामले सामने आए हैं, जिनमें सांगली जिले में 5 और मुंबई में मिले चार केस शामिल हैं।
लोगों को दी शुभकामनाएं
उद्धव ने अपने संबोधन के दौरान महाराष्ट्र के लोगों को गुड़ी पड़वा की शुभकामना दी। संबोधन के दौरान सीएम उद्धव ने लोगों से कहा कि महाराष्ट्र में आम लोगों के जरूरत के सामान की पूरी उपलब्धता है और लोगों को घबराने की कोई जरूरत नहीं है। उद्धव ने आम लोगों से घर में रहने की अपील की और कहा कि लॉकडाउन का फैसला उनके स्वास्थ्य को देखते हुए किया गया है।
महाराष्ट्र में गुड़ी पड़वा का पारंपरिक आयोजन फीका
बता दें कि महाराष्ट्र में बुधवार को गुड़ी पड़वा का पर्व ऐसे वक्त में पड़ा है, जबकि कोरोना वायरस से बचाव के लिए पूरे देश में लॉकडाउन की स्थितियां बनी हुई हैं। केंद्र और राज्य सरकार की ओर से लोगों से अपील की गई है कि वह गुड़ी पड़वा का उत्सव अपने घरों में ही मनाएं। इसके अलावा किसी आपातकालीन स्थितियों के अतिरिक्त घर से बाहर निकलने में पूरी तरह से परहेज करें।
पीएम ने मराठी में दी शुभेच्छा
गुड़ी पड़वा के पर्व पर लोगों को शुभकामना देते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने ट्वीट किया, ‘महाराष्ट्र के लोग गुड़ी पड़वा मना रहे हैं। मैं उनकी सफलता, समृद्धि और अच्छे स्वास्थ्य की कामना करता हूं। ईश्वर करे, इस साल उनकी सभी मनोकामनाएं पूरी हो।’ गुड़ी पड़वा चैत्र के महीने का पहला दिन होता है और इसे हिंदू कलेंडर के अनुसार नववर्ष की शुरुआत के तौर पर मनाया जाता है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »